Monday, Jan 30 2023 | Time 16:54 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


खदान धसकने से सात ग्रामीणों की मौत, एक की हालत गंभीर

जगदलपुर, 02 दिसंबर (वार्ता) छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले के मालगांव में आज दोपहर एक खदान धसकने से उसमें दबे सात ग्रामीणों की मौत हो गयी और एक गंभीर रुप से घायल है।
नगर पुलिस अधीक्षक विकास कुमार ने बताया कि संभाग मुख्यालय जगदलपुर से करीब 11 किलोमीटर दूर स्थित मालगांव पंचायत में कोटरी नुमा खदान धसने से यह बडा हादसा हो गया। दरअसल मालगांव पंचायत में बस्ती के बाहर सड़क निर्माण के लिये मुरुम के लिये खुदाई की गई थी। इसी गढ्ढे में छुई (मुल्तानी मिटटी जैसी चिकनी मिटटी) के निकलने की जानकारी मिलते ही गांव वाले खुदाई करने पहुचने लगे। पिछले 3 दिनों से ग्रामीण कोटरी नुमा खदान से छुई मिट्टी निकाल रहें थे, इसी बीच आज करीब 10 फिट अंदर मिट्टी खुदाई करने के दौरान खादन धंस गयी।
घटना के बाद बाहर खड़े लोगों ने मदद के लिये गांव वालों को बुलाया। खदान पूरी तरह से धंसे होने के चलते ग्रामीण भी कुछ नही कर पाए और तत्काल पुलिस और जिला प्रशासन को सूचना दी गयी। मौके पर पहुंची पुलिस और एसडीआरएफ की टीम ने जेसीबी के माध्यम से खुदाई शुरू कर दी तब तक काफी देर हो चुकी थी। खदान के अंदर ही छह ग्रामीणों की मौत चुकी थी, जबकि दो ग्रामीणों को घायल अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया। घायलों में से एक ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया जबकि एक 12 साल की बच्ची पूर्णिमा का इलाज जारी है।
हादसे में छह महिलाएं और एक पुरुष की मौत की पुष्टी हो चुकी है। घटना स्थल में रेस्क्यू काम पूरा कर लिया गया है। घटना के बाद से पूरे गांव में मातम का माहौल है। मृतकों की पहचान दश्मती, कमली, रामेशर, शांति, कुमारी, मनमती और शेतो के रूप में हुयी है।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बस्तर जिले के बकावंड विकासखंड के ग्राम मालगांव में छुई खदान के धसकने से ग्रामीणों की मृत्यु पर गहरी संवेदना व्यक्त की। उन्होंने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपए की सहायता राशि प्रदान करने की घोषणा की। इसके साथ ही सभी घायलों के बेहतर उपचार के लिए निर्देशित किया।
सं बघेल
वार्ता
image