Wednesday, Apr 17 2024 | Time 04:09 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


ईट राइट चैलेंज में भोपाल जिला देश में दूसरे स्थान पर आया

भोपाल, 23 मार्च (वार्ता) गत वर्ष भारत सरकार द्वारा देश में चलाये गये ईट राइट चैलेंज का परिणाम आज प्रकाशित हुआ जिसके अनुसार भाग लेने वाले 260 जिलों में देश में भोपाल को द्वितीय स्थान प्राप्त हुआ है। इस प्रतियोगिता में भोपाल, ग्वालियर तथा उज्जैन देश में प्रथम दस जिलों में शामिल हुए हैं।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार इसी प्रकार देश स्तर पर निकली है सूची के प्रथम पचास जिलों में मध्यप्रदेश के दस जिले शामिल हैं। आगामी 7 जून को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री के द्वारा प्रतियोगिता के अग्रणी जिलों के नोडल अधिकारियों को पुरस्कृत किया जायेगा।
आमजन के खान-पान की आदतों में सकारात्मक बदलाव तथा खाद्य प्रतिष्ठानों में आत्म-अनुपालन की प्रवृत्ति को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 01 मई 2022 से 15 नवम्बर 2022 तक चलाये गये देशाव्यापी ईट राइट चैलेंज की विभिन्न गतिविधियों के संचालन किया गया था।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में लगातार बेहतर काम हो रहा है। ईट टू राइट चैलेंज में भोपाल ने देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया है और देश में तीन जिले सबसे बेहतर काम करके टॉप टेन सूची में स्थान बनाया है। मुख्यमंत्री के द्वारा चलाये जा रहे ‘मिलावट से मुक्ति’ अभियान के कारण प्रदेश में अधिक संख्या में नमूना संग्रहण, खाद्य अनुज्ञप्ति की संख्या में वृद्धि हेतु शिविर लगाना, खाद्य सुरक्षा हेतु जागरूकता अभियान जैसे कार्य निरंतर किये जा रहें हैं जिसके परिणामस्वरूप ईट राइट चैलेंज प्रतियोगिता में जिलों ने सराहनीय उपलब्धि प्राप्त की है।
स्वास्थ्य मंत्री प्रभुराम चौधरी के मार्गदर्शन तथा आयुक्त, खाद्य सुरक्षा डॉ. सुदाम खाड़े के निर्देशन में प्रदेश के सभी प्रतियोगी जिलों के द्वारा सराहनीय कार्य कर खाद्य सुरक्षा के क्षेत्र में प्रदेश को गौरवान्वित किया गया है। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने भोपाल जिले ईट टू राइट चैलेंज की लगातार मॉनिटरिंग में की और इसके लिए मीडिया को भी समय समय पर इस प्रकार के कार्यक्रम में सहयोग के लिए आव्हान किया था। इससे लोगो में जागरूकता आई और दुकान संचालकों ने भी इस काम में बढ़चढ़ कर भाग लिया। जिससे भोपाल ने पूरे देश में बेहतर प्रदर्शन कर दूसरा स्थान प्राप्त किया है। भोपाल जिले के नागरिकों के लिय यह सम्मान का क्षण है।
चैलेंज के अन्तर्गत कलेक्टर भोपाल अविनाश लवानिया के द्वारा प्रारंभ किये गये ‘न्यूजपेपर में दे खाना, तो बोलो ना- ना’ नवाचारों को भारतीय खाद्य संरक्षा और मानक प्राधिकरण, नई दिल्ली द्वारा सराहा गया।
जिले के विहित खाद्य सुरक्षा अधिकारी डी के वर्मा ने बताया की जिले में कॉलोनी, मोहल्ला, और दुकानों पर इस अभियान के अंतर्गत जनजागृक्त अभियान चलाया गया जिसमे लोगो ने स्वमेव इच्छा से बढ़चढ़ कर भाग लिया था। इस दौरान देश में प्रथम ईट राइट मिलेट मेले का आयोजन भोपाल में किया गया। अंतर्राष्ट्रीय मिलेट श्री अन्न वर्ष के दौरान प्रदेश में अनेक स्थानों पर मिलेट मेलों का आयोजन किया जा रहा है।
इस ईट टू राइट चैलेंज प्रतियोगिता में अनुज्ञप्ति, पंजीयन की संख्या बढ़ाना, नमूना संग्रहण, मिलेट रेसिपी एवं फोर्टिफिकेशन प्रदर्शन, ईट राइट केम्पस, स्टेशन प्रमाणन, भोग प्रमाणन हाईजीन रेटिंग एवं नवाचारी गतिविधियों को पृथक-पृथक अंक प्रदान किये गये।
बघेल
वार्ता
image