Saturday, Sep 23 2023 | Time 10:04 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


बड़ी लूट की वारदात को अंजाम देने के पूर्व 15 हथियारों के साथ तीन गिरफ्तार

बड़वानी, 12 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले की सेंधवा शहर पुलिस ने पड़ोसी जिले खरगोन में बड़ी लूट को अंजाम देने के पूर्व तीन आरोपियों को 15 हथियारों के साथ गिरफ्तार किया है।
बड़वानी पुलिस अधीक्षक पुनीत गहलोद ने आज पत्रकार वार्ता में बताया कि मुखबिर से सूचना मिली थी कि पलसूद के सिकलीगर से भारी मात्रा में हथियार लेकर कुछ लोग सेंधवा की तरफ निकले हैं। इस पर सेंधवा के एसडीओपी कमल सिंह चौहान ने सेंधवा शहर थाना प्रभारी के नेतृत्व में दो टीमें गठित की और जैसे ही जोगवाड़ा रोड पर संदिग्ध आते दिखे, उन्हें रोक लिया गया।
सेंधवा निवासी संदिग्ध रिजवान खान और फिरोज उर्फ फिरदोस मंसूरी की तलाशी लेने पर 6 देशी पिस्तौल ,7 देशी रिवाल्वर, चार जिंदा कारतूस, एक दुपहिया वाहन व दो मोबाइल बरामद हुए और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।
पूछताछ किए जाने पर उन्होंने बताया कि उक्त हथियार पलसूद थाना क्षेत्र के उंडी खोदरी निवासी सावन सिंह सिकलीगर और दिनेश सिंह सिकलीगर से खरीदे हैं और खरगोन में बड़ी लूट की वारदात करने जा रहे थे।
उन्होंने यह भी बताया कि वह सिकलीगर से हथियार कम कीमत में खरीदकर पिस्तौल 30 हजार और रिवाल्वर 20 हजार रुपए में बेच देते थे। उनसे पूछताछ के आधार पर पुलिस टीम ने दिनेश सिंह को गिरफ्तार कर दो अर्ध निर्मित देशी रिवाल्वर , एक दुपहिया वाहन और हथियार बनाने के औजार और उपकरण भी जब्त किए हैं। आरोपी सावन सिंह फिलहाल फरार है जिसकी तलाश की जा रही है।
उन्होंने बताया कि आरोपियों का पूर्व में भी पुलिस रिकॉर्ड रहा है। फिरोज और फिरदौस पिछले वर्ष रामनवमी के दौरान सेंधवा में हुए सांप्रदायिक घटनाओं में शामिल रहा है और उसके खिलाफ हत्या का प्रयास और आगजनी के मामले दर्ज हैं । इसी तरह रिजवान के खिलाफ मारपीट के मामले दर्ज है।
पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपियों का पुलिस रिकॉर्ड खंगाला जा रहा है। पूरे घटनाक्रम में लगभग साढ़े पांच लाख रुपए का मशरूका जब्त किया गया है।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि जिले के 500 से अधिक पुलिस अधिकारी व कर्मचारियों के माध्यम से कॉम्बिंग गश्त के सकारात्मक परिणाम मिले हैं। इस दौरान ढाई सौ से अधिक गुंडे बदमाशों का निरीक्षण किया गया, 79 फरार वारंटी गिरफ्तार हुए। साथ ही अवैध शराब को लेकर 12 अपराध कायम किए गए और जुआ खेलने के 15 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।
सं गरिमा
वार्ता
image