Tuesday, Jul 23 2024 | Time 16:48 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


गुजरात की कंपनियों को साजिश के तहत पहुंचाया जा रहा लाभ: गोविंद

ग्वालियर, 30 मई (वार्ता) मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविंद सिंह ने आज राज्य सरकार पर गुजरात की कंपनियों को एक साजिश के तहत लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया।
डाॅ सिंह ने अपने प्रवास के दौरान पत्रकारों से चर्चा में कहा कि मध्यप्रदेश के लोगों की गाढी कमाई गुजरात को लुटवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि यह सब एक साजिश के तहत हो रहा है। उन्होंने आरोप लगाते हुये कहा कि सबसे पहले सरकार सहकारिता के क्षेत्र में चल रही सांची दुग्ध संघ को समाप्त करने पर तुली है। वहीं, गुजरात की सहकारिता क्षेत्र की अमूल द्वारा तीन बार में अपने उत्पादों में दूध में नौ रूपये की बढोतरी की है और सरकार अपने यहां के दुग्ध संघ को बंद करने पर विचार कर रही है।
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जब वह स्वयं सहकारिता मंत्री थे उस समय दुग्ध संघ 50 करोड़ के लाभ में था, लेकिन अब वही दुग्ध संघ घाटे में चल रहा है। उन्हाेंने कहा कि दुग्ध संघ काे समाप्त करने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि राज्य में जितनी भी कंपनियां काम कर रही है वह अधिकतर गुजरात की है। नल जल योजनाओं में लगी कंपनियों द्वारा काम पूरा नहीं करने के बाद भी कार्य पूर्ण होने के सर्टिफिकेट सरपंच और सचिवों से ले लिये हैं। इसके लिए अधिकारी अपनी मजबूरी बताकर सर्टिफिकेट ले रहे हैं।
उन्होंने उज्जैन में स्थित श्री महाकाल लोक में मूर्तियाें के क्षतिग्रस्त होने के मामले को लेकर कहा कि इस मामले में किसी के विरूद्ध कोई कार्रवाई नहीं की गयी है। उन्होंने दस्तावेजों के हवाले से बताया कि गुजरात की कंपनियां कम रेट में काम लेकर उसे लंबित कर काम का रेट चार गुना तक कर रहीं हैं। वहीं जिस कंपनी ने श्री महाकाल लोक का काम किया उसने जो एग्रीमेंट किया है। वह गुजराती भाषा में है, जबकि मध्यप्रदेश में हिन्दी और अंग्रेजी बोली समझी जाती है। उसके दस्तावेज भी डाॅ सिंह ने पत्रकारों को उपलब्ध कराएं।
सं बघेल
वार्ता
image