Saturday, Mar 2 2024 | Time 08:51 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


मध्यप्रदेश : माेदी मैजिक के आगे नहीं चली कांग्रेस की कोई गारंटी, ऐतिहासिक जीत की ओर भाजपा

भोपाल, 03 दिसंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चेहरे को आगे रख कर चुनावी मैदान में उतरी भारतीय जनता पार्टी 2023 के विधानसभा चुनाव में पिछले चुनाव 2018 के उलट न केवल ऐतिहासिक जीत हासिल करने की ओर है, बल्कि कांग्रेस की परंपरागत कही जाने वाली सीटें भी इस बार भाजपा के खाते में जाती दिखाई दे रही हैं।
अब तक घोषित परिणामों के अनुसार भाजपा कुल 230 विधानसभा सीटों में से 38 पर जीत हासिल कर चुकी है। पार्टी फिलहाल 128 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। कांग्रेस को अब तक 13 सीटें प्राप्त हुई हैं और वह 50 पर आगे चल रही है। एक सीट सैलाना अन्य के खाते में गई है।
वर्ष 2018 की तुलना में भाजपा को इस बार 57 सीटों पर फायदा हुआ है। वहीं कांग्रेस को 52 पर नुकसान उठाना पड़ा है।
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान शाम चार बजे तक की मतगणना में बुधनी विधानसभा क्षेत्र से लगभग एक लाख से अधिक मतों से बढ़त बनाए हुए हैं। वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर को दिमनी विधानसभा सीट से जीत हासिल हुई है। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल नरसिंहपुर से और पार्टी महासचिव कैलाश विजयवर्गीय इंदौर एक सीट से आगे चल रहे हैं। केंद्रीय मंत्री फग्गन सिंह कुलस्ते पीछे चल रहे हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ भी लगातार छिंदवाड़ा विधानसभा में अपनी बढ़त बनाए हुए हैं।
शाम चार बजे तक की मतगणना में कई मंत्री हार की ओर दिखाई दे रहे हैं। मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा, अरविंद भदौरिया, सुरेश राठखेड़ा और महेंद्र सिंह सिसोदिया अपने प्रतिद्वंद्वियों से पीछे चल रहे हैं। वहीं कांग्रेस की ओर से नेता प्रतिपक्ष डाॅ गोविंद सिंह और पूर्व मंत्री लक्ष्मण सिंह के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक के पी सिंह भी लगातार पीछे चल रहे हैं।
राजधानी भोपाल की चार सीटों भोपाल दक्षिण पश्चिम, गोविंदपुरा, नरेला और हुजूर पर भाजपा आगे बनी हुई है। वहीं तीन सीटें भोपाल उत्तर, भोपाल मध्य और बैरसिया कांग्रेस के खाते में जाती दिख रही हैं। राज्य की व्यावसायिक राजधानी इंदौर की सभी नौ सीटें भाजपा के खाते में जाने की ओर अग्रसर हैं।
टीम गरिमा
वार्ता
image