Tuesday, Apr 23 2024 | Time 09:45 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


कांग्रेस ने धर्मान्तरण पर श्वेत पत्र जारी करने की मुख्यमंत्री साय को दी चुनौती

रायपुर 29 जनवरी(वार्ता)छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष एवं सांसद दीपक बैज ने मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय के द्वारा धर्मांतरण को लेकर दिये गये बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुये उनको राज्य में धर्मान्तरण पर श्वेत पत्र जारी करने की चुनौती दी है।
श्री बैज ने आज यहां जारी बयान में कहा कि कांग्रेस मुख्यमंत्री विष्णुदेव साय को चुनौती देती है वह धर्मान्तरण को लेकर विशेष तौर पर छत्तीसगढ़ में धर्मान्तरण को लेकर श्वेत पत्र जारी करें। भारतीय जनता पार्टी की रमन सरकार में कितने चर्च बने थे और कांग्रेस के भूपेश बघेल सरकार के दौरान कितने चर्च बने थे, स्थितियां स्पष्ट हो जायेंगी। भाजपा जनता पार्टी की जब-जब प्रदेश में सरकार रहती है वे स्वयं धर्मान्तरण को बढ़ावा देती है ताकि इस मुद्दे पर बयानबाजी करके मतों का ध्रुवीकरण कर सके।
उन्होने कहा कि भाजपा को हिन्दुत्व से, सनातन से कोई मतलब नहीं है। वो अपनी राजनीति करने के उद्देश्य से इस प्रकार की चीजों को प्रचारित प्रसारित करती है। छत्तीसगढ़ में भी धर्मान्तरण की जो बातें उसके पीछे भारतीय जनता पार्टी है, नहीं तो श्वेत पत्र जारी करके बतायें कि रमन सरकार के 15 साल के कार्यकाल में कितने चर्च बने थे और कांग्रेस सरकार के पांच साल में कितने चर्च बने? छत्तीसगढ़ में 90 फीसदी चर्च भाजपा के शासनकाल में बना है। 2004 के पहले जितनी चर्च थी उससे 100 गुना ज्यादा चर्च 2004-2018 तक बने है। 2018 के बाद एक भी चर्च एक भी चर्च का निर्माण नहीं हुआ है। धर्मान्तरण हुआ है तो इसके पीछे जिम्मेदार कौन है, तत्कालीन सरकार थी जो भारतीय जनता पार्टी की थी।
श्री बैज ने कहा कि उच्चतम न्यायालय ने छह महीने पहले केंद्र सरकार को निर्देश दिया था कि धर्मान्तरण देशव्यापी समस्या है तो कानून क्यों नहीं बनाया जाना चाहिये? आज तक सुप्रीम कोर्ट के इस निर्देश का केंद्र सरकार ने कोई जवाब नहीं दिया है। केंद्र में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार है कानून बना देना चाहिये।
साहू
वार्ता
image