Saturday, Apr 20 2024 | Time 13:50 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


दमोह में पुलिस के सामने धमकी देने वाला गिरफ्तार, पुलिस ने की सख्ती

दमोह, 05 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के दमोह जिला मुख्यालय पर एक विवाद के बाद पुलिस थाने के पास एकत्रित हुयी भीड़ में शामिल एक व्यक्ति ने पुलिस प्रशासन के समक्ष ही माइक से कथित आरोपियों के हाथ काटने तक की धमकी दे डाली। इसके बाद वहां मौजूद थाना प्रभारी आनंद सिंह ठाकुर ने अकेले ही यह दु:साहस दिखाने वाले व्यक्ति को न सिर्फ ललकारा, बल्कि उसे उसकी औकात भी याद दिला दी।
इस बहादुर पुलिस अधिकारी आनंद सिंह ठाकुर का आज वीडियो वायरल हुआ है। इस मामले में मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने आरोपियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश देते हुए पुलिस अधिकारी की सराहना की है।
वायरल वीडियो में दिखायी दे रहा है कि श्री ठाकुर भीड़ में मौजूद धमकाने वाले आरोपी के पास जाकर उसे ललकारते हैं और यह कहते हुए सुना जा रहे हैं कि वे अकेले ही हैं, किसी में दम हो तो हाथ लगाकर दिखाओ। हालाकि हजारों की भीड़ के बीच और कुछ और भी पुलिस वाले मौजूद थे। वर्ग विशेष से आने वाले ये लोग एक विवाद के बाद थाने के समक्ष एकत्रित होकर विवाद के संबंध में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे थे।
सोमवार और मंगलवार की दरम्यानी रात के घटनाक्रम में नारेबाजी के बीच भीड़ में मौजूद अकरम नाम के व्यक्ति ने माइक से पुलिस प्रशासन को खुली चुनौती देते हुए कहा कि यदि 24 घंटे के अंदर आरोपी गिरफ्तार नहीं हुए, तो आरोपियों के न हाथ रहेंगे और न ही शरीर पर गर्दन। यह सुनते ही वहां मौजूद थाना प्रभारी आनंद सिंह ठाकुर आग बबूला हो गए और उन्होंने मौके पर ही धमकी देने वाले आरोपी की लू उतार दी। थाना प्रभारी का साहस और रौद्र रूप देखकर भीड़ में शामिल अनेक लोग बगलें झांकने लगे और लोग उनसे माफी मांगने लगे।
दरअसल एक टेलर की दुकान से कपड़े सिलवाने को लेेकर कुछ लोगों में विवाद हुअा। इसके बाद देर रात दो पक्ष आमने सामने आ गए। सैकड़ों हजारों लोग कोतवाली थाने के पास एकत्रित हो गए और कुछ लोगों के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। माइक वाला घटनाक्रम होने के बाद पुलिस प्रशासन ने संबंधित इलाके में फ्लैग मार्च किया। भीड़ तुरंत ही तितर बितर हो गयी। अब इलाके में स्थिति नियंत्रण में है और पुलिस बल तैनात है।
पुलिस प्रशासन का कहना है कि वीडियो के जरिए आरोपियों की पहचान की जा रही है और सभी के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। तीस से चालीस लोगों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। अकरम समेत तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके पहले टेलर से मारपीट के मामले में भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।
इस घटनाक्रम से जुड़े वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।
प्रशांत
वार्ता
image