Thursday, Apr 18 2024 | Time 14:25 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


हरदा मामले में विधानसभा में स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा प्रारंभ

भोपाल, 08 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के हरदा में पटाखा फैक्ट्री में आग और विस्फोट की भीषण घटना को लेकर आज विधानसभा में मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस की ओर से लाए गए स्थगन प्रस्ताव पर चर्चा प्रारंभ हुयी।
चर्चा की शुरूआत करते हुए वरिष्ठ कांग्रेस सदस्य रामनिवास रावत ने कहा कि हरदा में दो दिन पहले हुए हादसे के वक्त फैक्ट्री परिसर में कितने लोग मौजूद थे, यह अब तक साफ नहीं हो पाया है। उन्होंने कहा कि फैक्ट्री अवैध रूप से संचालित थी और उसके संचालकों को राजनैतिक संरक्षण की बात भी सामने आयी है। अगर ऐसा है तो हमें आत्म अवलोकन करना चाहिए।
श्री रावत ने इस मामले की जांच गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव से कराने का जिक्र करते हुए कहा कि यह कैसी जांच है। क्योंकि ऐसे मामलों में इसी विभाग का सबसे ज्यादा संरक्षण रहता है। उन्होंने हरदा मामले में प्रशासन के साथ ही राज्य सरकार को कठघरे में खड़ा किया।
इसके पहले प्रश्नकाल के बाद विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि कांग्रेस की ओर से आठ सदस्यों ने स्थगन प्रस्ताव की सूचना दी है। श्री रावत की सूचना सबसे अधिक तथ्यात्मक है। श्री तोमर ने कहा कि घटना गंभीर है और शासन ने चर्चा पर सहमति दी है, इसलिए इस पर चर्चा के लिए डेढ़ घंटे का समय तय किया जाता है। इसके बाद चर्चा की शुरूआत की श्री रावत ने की।
विधानसभा के बजट सत्र का यह दूसरा दिन है। बुधवार को यह सत्र राज्यपाल के अभिभाषण के साथ प्रारंभ हुआ था। हरदा में मंगलवार को एक पटाखा फैक्ट्री में सिलसिलेवार विस्फोट और आग लगने की घटना के कारण 12 लोगों की मृत्यु हुयी है और दो सौ से अधिक घायल हुए हैं।
गरिमा प्रशांत
वार्ता
image