Sunday, Apr 21 2024 | Time 03:25 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


सरकार जन कल्याण के लिए कटिबद्ध: यादव

छिंदवाड़ा, 21 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव ने आज कहा कि राज्य सरकार जन कल्याण के लिए कटिबद्ध है। संकल्प पत्र का पालन करते हुए सभी बिंदुओं पर कार्रवाई की जाएगी।
डॉ यादव यहां 131.49 करोड़ रुपए की लागत की विभिन्न परियोजनाओं और प्रकल्पों के शिलान्यास एवं भूमि पूजन समारोह को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि एक समय था जब मध्यप्रदेश की हालत बहुत खराब थी। बुनियादी सुविधाएं भी जनता को उपलब्ध नहीं थीं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में प्रदेश का विकास हो रहा है। देश के 25 करोड़ लोग गरीबी से बाहर आए हैं। मध्यप्रदेश को विशेष लाभ मिला है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश किसी भी क्षेत्र में पीछे रहने वाला नहीं है। लाड़ली लक्ष्मी योजना सहित अन्य सभी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन होगा। प्रदेश का बजट आगामी जुलाई माह में आएगा। किसानों को उनकी उपज का उचित दाम दिलवाने की बात हो या सड़कों के निर्माण या सिंचाई सुविधाएं बढ़ाने का प्रश्न हो, मध्यप्रदेश निरंतर आगे बढ़ेगा। प्रदेश के नागरिकों को विकास का पूरा लाभ प्राप्त होगा। डॉ यादव का छिंदवाड़ा में नागरिकों ने भव्य स्वागत किया।
डॉ.यादव ने छिंदवाड़ा में 5 विभाग के 46.77 करोड़ रूपये लागत के 9 निर्माण कार्यो का भूमिपूजन और 7 विभागों के 131.49 करोड़ रूपये लागत के 28 विकास कार्यो का लोकार्पण किया। कुल 178.26 करोड़ रुपए के 37 कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण सम्पन्न हुआ। आज 74.27 करोड़ रूपये लागत के औद्योगिक विकास केन्द्र बोरगांव का लोकार्पण भी किया गया। मुख्यमंत्री ने जिन अन्य प्रमुख कार्यों का लोकार्पण किया उनमें सेल्टिया जलाशय, ग्राम झिलमिली में हायर सेकेण्डरी स्कूल में अतिरिक्त कक्ष, उमरानाला में स्कूल भवन में प्रयोग शाला, ग्राम जाम में विद्यालय में प्रयोगशाला और अतिरिक्त कक्ष, ग्राम बढ़कुही में अतिरिक्त कक्ष, कैलाश नगर छिंदवाड़ा के कन्या स्कूल का मॉडल स्कूल में उन्नयन, दमुआमाल में विद्युत उपकेंद्र, जलजीवन मिशन में ग्राम लोटिया, हरकपुर, सीताडोंगरी, लोना पठार, करीडोंगरी और डुंगरिया में नलजल योजना, विभिन्न सड़क निर्माण कार्य, उप स्वास्थ्य केंद्र भवन, गोदाम आदि शामिल हैं।
इसके साथ ही जिन कार्यों का शिलान्यास हुआ है उनमें एमपी इंडस्ट्रियल डेव्हलेपमेंट कार्पोरेशन लिमिटेड के क्षेत्रीय कार्यालय जबलपुर के औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन कार्यक्रम के अंतर्गत 13 करोड़ रूपये लागत के औद्योगिक क्षेत्र लहगडुआ का शिलान्यास भी शामिल है।
छिन्वाड़ा में श्रीअन्न मेले में प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया। इसमें आमजन ने गहरी रूचि दिखाई। श्रीअन्न मेले के अंतर्गत श्री अन्न को प्रोत्साहन देने के लिये जवाहरलाल नेहरू कृषि विश्वविद्यालय, जबलपुर ने श्रीअन्न (मिलेट्स) के विभिन्न व्यंजन के स्टॉल जिसमें नूडल्स, पास्ता, कुकीज़, बिस्किट तैयार किये गये। जिसका प्रदर्शन मेले में किया गया। इस मौके पर कार्यशाला में श्री अन्न उत्पादन और प्रसंस्करण कार्य की तकनीकी जानकारी दी गई।
छिंदवाड़ा जिले के सभी विकासखंडों के किसानों ने मेले में सहभागिता की। मेले में कृषि आदानों बीज, खाद और कीटनाशक दवाईयों से संबंधित विभिन्न कंपनियों और कृषि यंत्रों एवं सिंचाई उपकरणों की प्रदर्शनी लगाई गई। आमजन के लिए मोटा अनाज (श्री अन्न) से निर्मित व्यंजनों के फूड स्टॉल लगाए गए। छिंदवाड़ा के भौगोलिक रूप से पातालकोट क्षेत्र की रसोई एवं वन भोज रसोई स्टॉल का लाइव प्रदर्शन किया गया।
जबलपुर संभाग के अन्य जिलों में से नरसिंहपुर जिले की तुअर दाल व जैविक गुड़, सिवनी जिले का जीरा संकर चावल एवं किनौवा, बालाघाट जिले का चिन्नौर चावल, मण्डला जिले के श्री अन्न उत्पाद के साथ ही अन्य जिलों के प्रसिध्द उत्पादों के स्टाल लगाए गए। उन्नतशील कृषकों के जैविक एवं प्राकृतिक उत्पादों का प्रदर्शन एवं विपणन भी किया गया। मेले के दौरान सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी हुआ। कार्यक्रम में अनेक जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।
बघेल
वार्ता
image