Friday, Aug 23 2019 | Time 12:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • छह-सात महीनों में करीब 55 प्रतिशत अपराध बढे-कटारिया
  • ‘पूजो’ के मूड में नजर आने लगा बंगाल
  • केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
  • तीन तलाक मामला: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को जारी किया नोटिस
  • तेलंगाना में आयुध फैक्ट्री के लाखों कर्मियों की हड़ताल जारी
  • हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन में नजर आएंगी प्रियंका
  • हॉलीवुड प्रोजेक्ट में एक्शन में नजर आएंगी प्रियंका
  • अल्जीयर्स रैप कंसर्ट में भगदड़, 5 की मौत, 21 घायल
  • बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत, पुनर्वास कार्य तेज
  • सीतापुर में छेड़छाड़ का विरोध करने पर जलाई गई किशोरी की मृत्यु
  • जी-7 बैठकों में कश्मीर मसला ट्रंप के एजेंडे में शामिल
  • रूस ने 27 विदेशी टोही विमानों का पता लगाया
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 24 अगस्त)
  • मोदी-मेक्रों ने सीमा पार आतंकवाद को रोकने का अनुरोध किया
  • ट्रम्प ने जी-7 सम्मिट में आर्थिक मुद्दे पर बातचीत का अनुरोध किया
राज्य » अन्य राज्य


पीएसएलवी-सी46 का प्रक्षेपण 22 मई को

बेंगलुरु, 12 मई (वार्ता) भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) 22 मई को पीएसएलवी-सी46 मिशन का प्रक्षेपण करेगा जिसके तहत राडार इमेजनिंग तकनीक से पृथ्वी का अवलोकन करने वाले उपग्रह आरआईसैट-2बी को अंतरिक्ष में स्थापित किया जायेगा।
इसरो ने शनिवार रात बताया कि 22 मई की सुबह 5.27 बजे आँध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र के प्रथम लॉन्च पैड से पीएसएलवी-सी46 का प्रक्षेपण किया जायेगा। यह पीएसएलवी का 48वाँ मिशन और सॉलिड स्ट्रैप-ऑन मोटर के बिना पीएसएलवी की 14वीं उड़ान होगी।
सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से किसी प्रक्षेपण यान का यह 72वाँ और उसके पहले लॉन्च पैड से 36वाँ मिशन है।
आरआईसैट-2बी को अक्ष से 37 डिग्री के झुकाव पर धरती की सतह से 555 किलोमीटर ऊपर पृथ्वी की कक्षा में स्थापित किया जायेगा।
इसरो ने बताया कि आम लोग सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र में हाल ही में शुरू किये गये दर्शक दीर्घा से पीएसएलवी-सी46 का प्रक्षेपण देख सकते हैं। इसके लिए 17 मई से पंजीकरण आरंभ हो जायेगा।
अजीत.श्रवण
वार्ता
More News
तेलंगाना में आयुध फैक्ट्री के लाखों कर्मियों की हड़ताल जारी

तेलंगाना में आयुध फैक्ट्री के लाखों कर्मियों की हड़ताल जारी

23 Aug 2019 | 11:02 AM

हैदराबाद 23 अगस्त (वार्ता) सेना तथा अन्य अर्द्धसैनिक बलों केे लिए गोला बारूद बनाने वाले देश भर के आयुध कारखाने के निजीकरण योजना के विरोध में इन कारखानों में एक लाख से भी अधिक कर्मचारियों का हड़ताल शुक्रवार को चौथे दिन भी जारी रहा।

see more..
image