Friday, Jan 17 2020 | Time 21:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अहमदाबाद मनपा का 8900 करोड़ का ड्राफ्ट बजट पेश
  • शिवांगी और ख़ुशी का खेलो इंडिया में गोल्डन डबल
  • मुरादाबाद में डकैती की योजना में शामिल तीन सगी बहनों समेत आठ गिरफ्तार
  • वाराणसी में कल नागरिकता संशोधन कानून (सीएए)के समर्थन में भाजपा की सभा
  • कच्छ जिला केंद्रीय सहकारी बैंक घोटाले में 26 और गिरफ्तार
  • दिल्ली वि स के लिए 48 और नामांकन दाखिल
  • कांग्रेस सरकार भेदभावपूर्ण कार्रवाई कर रही है मध्यप्रदेश में - भाजपा
  • बुलेट ट्रेन : किसानों ने ली शीर्ष अदालत की शरण
  • भारत-नेपाल सीमा पर पीलरों का सर्वे 26 मई को होगा पूरा
  • पटना हनुमान मंदिर का रिलाइंस जिओ टीवी पर होगा सीधा प्रसारण
  • बू समस्या का समाधान करने के लिए मोदी का धन्यवाद : विप्लव
  • मोदी ने जीसैट 30 के सफल प्रक्षेपण पर दी बधाई
  • वीडियो कॉनफ्रेंसिंग से झांसी में बैरक और क्राइम ब्रांच भवन का लोर्कापण
  • मोदी समर्थकों काे पाक जेल में किया जाता है प्रताड़ित
राज्य » अन्य राज्य


जिलाधिकारी ने की चुनाव अधिकारियों के साथ बैठक

हरिद्वार 23 अक्टूबर (वार्ता) उत्तराखंड में हरिद्वार जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी दीपेंद्र कुमार चौधरी ने रुडकी नगर निगम के चुनाव के सम्बंध में समस्त चुनाव अधिकारियों (आरओ) के साथ रोशनाबाद कार्यालय में बैठक ली।
श्री चाैधरी ने चुनाव अधिकारियों को दिये गये उनके दायित्वों के विषय में विस्तार से बताया और अपनी ड्यूटी निवर्हन में कहीं कोई समस्या या अस्पष्टता को समय से दूर कर लिये जाने को कहा। उन्होंने कहा कि कोई अधिकारी अपने कर्तव्यों के प्रति अनभिज्ञ न रहे, पंचस्थानी कार्यालय से दी जाने वाली आरओ पुस्तिका का अध्ययन अवश्य कर लें। पोलिंग पार्टियों की रावनगी, किट आदि की व्यवस्था के लिए तैयारी कर लें। उनकी आरओ पात्रता के विषय में स्पष्ट जानकारी रखें, यदि कोई आवेदक पात्रता नहीं रखता है तो उसके दास्तावेज जांच कर पात्रता निरस्त करे।
उन्होंने चुनाव अधिकारियों से कहा मतदान केंद्रों की सूची, परिसीमन का नक्शा अपने पास रखें। आरओ अपनी पोलिंग पार्टियों का गठन कर जिला प्रशासन की ओर से मास्टर ट्रेनर द्वारा दी जाने वाली प्रशिक्षण सभी पीठासीन अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिलाना सुनिश्चि करें।
आरओ सुनिश्चित करें कि निर्वाचन प्रक्रिया संबंधि कोई भी कार्य नगर निगम के कर्मियों से न लिया जायें। अन्य कार्यों में उनकी सहायता ली जा सकती है।
जिलाधिकारी ने उपजिलाधिकारी और क्षेत्रीय मजिस्ट्रेटों से कहा कि निर्वाचन अधिसूचना जारी होने के साथ ही आदर्श आचार संहिता का पालन कराना सुनिश्चि करें। नगर निगम अधिकारी निगम क्षेत्र में लगायी गयी सभी प्रचार सामग्री जो सार्वजनिक सम्पत्ति एवं बिना अनुमति निजी सम्पत्ति पर लगायी गयी हो उसको हटायें। आचार संहिता का उल्लघंन न हो इसकी निगरानी करें। किसी भी उम्मीदवार के संलग्नकों की गहनता से जांच करें।

सं. उप्रेती
वार्ता
image