Thursday, Jan 28 2021 | Time 19:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • झारखंड : कांग्रेस 31 जनवरी को करेगी ट्रैक्टर रैली
  • निकायों में भाजपा को मिलेगी शानदार जीत-पूनियां
  • हरियाणा में हड़प्पाकालीन साइट राखीगढ़ी में फिर से शुरू होगी खुदाई
  • बजट सत्र से पहले नायडू ने की कोविंद से भेंट
  • हरियाणा में सोनीपत, पलवल, झज्जर जिलों में इंटरनेट सेवाओं पर पाबंदी बढ़ी
  • मध्यप्रदेश में कड़ाके की ठंड का दौर जारी, कई स्थानों पर चली शीतलहर
  • यूपीएससी परीक्षा मामला: सुप्रीम कोर्ट ने हलफनामे पर जताई नाराजगी
  • पुन: जारी हरियाणा आंदोलन-खाप पंचायत दो अंतिम जींद
  • तंबाकू नियंत्रण अधिनियम में संशोधन का ड्राफ्ट तैयार
  • जींद में 30 को जुटेंगी खाप पंचायतें, आंदोलन के लिये बनाएंगी रणनीति
  • कश्मीर में पांच ड्रग तस्कर गिरफ्तार, 2 26 लाख की चरस बरामद
  • हरियाणा में वर्ष 2020 में सड़क दुर्घटनाओं और मौतों में आई कमी
  • न्याय प्रदान करने में महाराष्ट्र, त्रिपुरा सबसे आगे : इंडिया जस्टिस रिपोर्ट
  • न्याय प्रदान करने में महाराष्ट्र, त्रिपुरा सबसे आगे : इंडिया जस्टिस रिपोर्ट
  • सीनियर फ्रीस्टाइल कुश्ती का राष्ट्रीय शिविर एक फरवरी से
राज्य » अन्य राज्य


बीई ने भारत में की कोरोना वैक्सीन के चरण प्रथम-द्वितीय नैदानिक परीक्षण की शुरुआत

हैदराबाद, 16 नवंबर (वार्ता) हैदराबाद स्थित वैक्सीन निर्माता एवं दवा कंपनी बॉयोलॉजिकल ई लिमिटेड (बीई) ने सोमवार को घोषणा की कि उसने ड्रग्स कंट्रोलर ऑफ इंडिया की मंजूरी के बाद देश में कोविड-19 उप-यूनिट वैक्सीन प्रथम-द्वितीय चरण का चिकित्सकीय परीक्षण शुरू किया है।
इस वैक्सीन को अमेरिका स्थित बायलर कॉलेज ऑफ मेडिसिन (बीसीएम) ने विकसित किया है।
बीई ने एक विज्ञप्ति में कहा कि वैक्सीन परीक्षण में बीसीएम वेंचर्स से एंटीजेन-इन-लाइसेंस प्राप्त, बायलर कॉलेज ऑफ मेडिसिन की एकीकृत व्यावसायीकरण टीम शामिल है। साथ ही डायनेक्स के उन्नत सहायक सीपीजी 1018 भी इसमें शामिल हैं।
टीकाकरण अनुसूची में प्रत्येक अध्ययन प्रतिभागी के लिए दो खुराक शामिल हैं, जिसे इंट्रामस्क्यूलर इंजेक्शन के माध्यम से 28 दिनों के लिए प्रशासित किया गया है। इस चिकित्सकीय परीक्षण के परिणाम अगले साल फरवरी तक उपलब्ध होने की उम्मीद है।
संजय.श्रवण
वार्ता
image