Thursday, Jan 28 2021 | Time 07:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटाने में समय लगेगा : ब्लिंकन
  • अमेरिका में कैपिटल हिल हिंसा मामले में तीन लोगों पर आरोप तय
  • इजरायल में कोरोना संक्रमण के 7,412 नये मामले
  • अमेरिका में कोविड-19 से 4 28 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • ब्रिटेन में एस्ट्राजेनेका के वैक्सीन संयंत्र के पास मिला संदिग्ध पैकेट
  • अमेरिका ने यूएई और सऊदी अरब के साथ रक्षा समझौतों पर लगाई रोक
  • कैमरून में सड़क दुर्घटना में 53 लोगों की मौत, 29 घायल
राज्य » अन्य राज्य


उधमसिंह नगर में चोरियों का खुलासा, अंतर्राज्यीय चोर गिरोह के दो सदस्य पकड़े

नैनीताल, 20 नवम्बर (वार्ता) उत्तराखंड के रूद्रपुर के देव होम्स, पंचवटी और सिटीवन जैसी पाॅश कालोनियों में दीपावली से ठीक पहले हुई चोरियों का पुलिस ने खुलासा किया है। इन चोरियों को अंतर्राज्यीय चोर गिरोह ने अंजाम दिया और पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि चोरों का सरगना फरार होने में कामयाब रहा।
उधमसिंह नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) दलीप सिंह कुंवर ने शुक्रवार को जनपद मुख्यालय में स्वयं इन चोरियों का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि चोरी की इन घटनाओं को शातिर चोरों के एक गिरोह ने अंजाम दिया है। यह चोरों का अंतर्राज्यीय गिरोह है। यह गिरोह पंजाब में चोरियों को अंजाम दे चुका है। पकड़े गये चोरों के खिलाफ पंजाब में मामले दर्ज हैं। पुलिस उनका पता लगा रही है।
इस गिरोह की खास बात यह है कि इसके सदस्य पाॅश कालोनियों में चोरी की घटनाओं को अंजाम देते हैं। इस गिरोह के सदस्य सबसे पहले शहर के पाॅश कालोनियों का चयन करते हैं और उसके आसपास किराया का मकान ले लेते हैं। चोरी से पहले कालोनी और आसपास पूरी तहकीकात करते हैं। बंद मकानों की तलाश के बाद उसकी रेकी करते हैं। इसके बाद घरों में हाथ साफ कर लेते हैं।
पुलिस ने गिरोह के दो सदस्यों धर्मपाल उर्फ प्रेमपाल पुत्र ठाकुरदास निवासी न्यू सीमापुरी, दिलशाद गार्डन, ई-59/274 कलंदर कालोनी दिल्ली, हाल निवासी सोढ़ी कालोनी विलासपुर रामपुर उत्तर प्रदेश और अनिल पुत्र महेश निवासी ग्राम साहनपुर, थाना बिसौली, बदायूं उप्र को गिरफ्तार कर लिया है। उन्होंने बताया कि गिरोह का सरगना और मास्टर माइंड जान सिंह पुत्र मुंशी लाल ग्राम साहनपुर, थाना बिसौली, बदायूं उप्र है और वह मौके से फरार होने में कामयाब हो गया है।
श्री कुंवर ने बताया कि आरोपी शातिर किस्म के अपराधी हैं और यहां भी इन्होंने चोरी की घटनाओं को अंजाम देने से पहले कालोनियों में जाकर बंद घरों की रेकी की और तीनों घरों से नकदी, महंगे सामान और सोने चांदी व हीरे के जेवरात पर हाथ साफ कर दिया।
चोरी की एक के बाद एक तीन घटनाओं के सामने आने के बाद पुलिस की ओर से एसओजी और पुलिस की कई टीमें बनायी गयीं। पुलिस ने चोरों कोे पकड़ने के लिये कड़ी मशक्कत की। सीसीटीवी कैमरों को खंगाला और संदिग्धों से पूछताछ की। उत्तर प्रदेश में संदिग्धों से पूछताछ की गयी।
श्री कुंवर ने बताया कि गिरोह के सदस्य चोरी के बाद घर में लगे सीसीटीवी के डीबीआर भी ले जाते थे ताकि घर वालों व पुलिस को किसी प्रकार को कोई सुबूत न मिल सके। पुलिस ने चोरों के पास से भारी मात्रा में सोने चांदी के आभूषण और जेवर भी बरामद किये हैं। जिनमें चांदी के कटोरे, सिक्के, पायल, चांदी के कड़े, सोने के कड़े, सोने के टुकड़े, लाकेट, टाप्स, बिछवे, लक्जरी घड़ियां, कुंडल, टाॅप्स, लटकन, चेन, झुमके, चांदी की कृष्ण की मूर्ति, चम्मच, करधनी, मंगलसूत्र और 87000 रुपये नकद बरामद किये हैं। उन्होंने बताया कि चोरों को पुलिस ने मुखबिर की सूचना पर गुरुवार शाम को डिबडिबा से बिलासपुर जाने वाले मार्ग पर पापुलर के खेत से दबोचा है। चोरों को पकड़ने वाली टीम को एसएसपी एएसपी की ओर से पुरस्कृत किया गया है।
रवीन्द्र, उप्रेती
वार्ता
image