Thursday, Jan 28 2021 | Time 08:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका ने यूएई और सऊदी अरब के साथ रक्षा समझौतों पर लगाई रोक
  • हौती लड़ाकों पर लगे प्रतिबंधों पर विचार कर रहा है बिडेन प्रशासन : ब्लिंकन
  • लेबनान में विरोध प्रदर्शन के दौरान ग्रेनेड विस्फोट में नौ पुलिसकर्मी घायल
  • नवेलनी मामले को लेकर रूस पर प्रतिबंध लगा सकता है यूरोपीय संघ
  • ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटाने में समय लगेगा : ब्लिंकन
  • अमेरिका में कैपिटल हिल हिंसा मामले में तीन लोगों पर आरोप तय
  • इजरायल में कोरोना संक्रमण के 7,412 नये मामले
  • अमेरिका में कोविड-19 से 4 28 लाख से अधिक लोगों की मौत
  • ब्रिटेन में एस्ट्राजेनेका के वैक्सीन संयंत्र के पास मिला संदिग्ध पैकेट
  • अमेरिका ने यूएई और सऊदी अरब के साथ रक्षा समझौतों पर लगाई रोक
  • कैमरून में सड़क दुर्घटना में 53 लोगों की मौत, 29 घायल
राज्य » अन्य राज्य


प्रमुख मंदिरों को पर्यटन सर्किट से जोड़ने की सरकार की योजना : महाराज

नैनीताल, 25 नवम्बर (वार्ता) उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि प्रदेश सरकार की प्राथमिकता प्रदेश के अंतर्गत प्राचीन शिव, विष्णु, नाग, सूर्य, गोल्ज्यू आदि मंदिरों को पर्यटन सर्किट के रूप में विकसित करने की है और सरकार जल्द इस कार्य को अजांम देगी।
उन्होंने वीडियो कान्फ्रेंसिंग से हुई समीक्षा बैठक के दौरान कहा कि हमारा मुख्य उद्देश्य राज्य के प्राचीन महत्व के प्रमुख मंदिरों को पर्यटन सर्किट से जोड़कर उनकी पहचान दिलाना हैं। उन्होंने यह भी कहा कि मंदिरों को पर्यटन सर्किट से जोड़कर पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ-साथ स्थानीय लोगों को रोजगार भी प्राप्त होगा जिससे उनकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी।
चम्पावत की जिला पर्यटन विकास अधिकारी लता बिष्ट ने सुझाव दिया कि जनपद के क्रान्तेश्वर मंदिर, पातालरुद्रेश्वर गुफा, नागनाथ मंदिर, रमक का सूर्य-आदित्य मंदिर, गोल्ज्यू मंदिर तथा गुरु गोरखनाथ मंदिर का व्यापक महत्व हैं और इन्हें पर्यटन सर्किट से जोड़ा जाए तो पर्यटन को बढ़ावा मिलने के साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार भी प्राप्त होगा।
रवीन्द्र, उप्रेती
वार्ता
image