Friday, Jan 22 2021 | Time 09:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी ने कर्नाटक में मजदूरों की मौत पर शोक व्यक्त किया
  • मराठवाडा क्षेत्र में कोरोना के 236 नए मामले
  • स्पेन में कोरोना के सर्वाधिक 44,357 नए मामले
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 23 जनवरी)
  • आईएस ने ली बगदाद में हुए हमले की जिम्मेदारी
  • कोलंबिया में कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या पहुंची 50 हजार के पार
  • अमेरिका ने रूस के साथा नए स्टार्ट संधि की अवधि पांच साल के लिए बढ़ाएगा
  • यूरोपीय संघ को सीमाएं खुला रखना चाहिएः चार्ल्स मिशेल
  • बिडेन ने रूस की गतिविधियों की समीक्षा करने का कार्य खुफिया विभाग को सौंपा
  • कोरोना का नया स्ट्रेन अमेरिका के 20 या उससे ज्यादा प्रांतों में मौजूद हैः फौसी
  • सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया पीड़ितों को देगा 25-25 लाख रुपये का मुआवजा
  • स्मार्टफोन की तरह स्मार्ट बनेंः ममता
राज्य » अन्य राज्य


ज्ञानवंत सिंह को जांच से बचा रही है ममता सरकारः धनखड़

कोलकाता, 26 नवंबर (वार्ता) पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने गुरुवार को ममता सरकार पर भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के अधिकारी ज्ञानवंत सिंह को बचाने का आरोप लगाया और सवाल किया कि जब उनके कृत्यों को ही अदालत ने असंवैधानिक ठहराया है तथा इसे बिना कानूनी मंजूरी के लोगोें के जीने के अधिकार का अतिक्रमण करार दिया है तो ऐसे में राज्य सरकार उन्हें क्यों बचा सकती हैं।
श्री धनखड़ ने ट्वीट कर कहा, “उच्च न्यायालय की एकल पीठ ने 14.08.08 के अपने फैसले में कहा था कि उस समय पुलिस मुख्यालय में तैनात उपायुक्त श्री सिंह ने एक लोक सेवक के कर्तव्य का निर्वहन करते हुए बिना कानून की इजाजत के लोगों के जीने के अधिकार पर अतिक्रमण किया और न्यायालय ने उनकी कार्रवाई को असंवैधानिक करार दिया था।”
उन्होंने एक अन्य ट्वीट में कहा, “उच्चतम न्यायालय ने एक मार्च 2011 को अपने फैसले में कहा था कि उच्च न्यायालय की एकल पीठ द्वारा दिये गये सुझाव के अनुसार यदि राज्य के पुलिस विभाग अधिकारियों के खिलाफ यदि कोई कार्रवाई की जाती है, तो वह कानून तथा उनकी सेवा शर्तों के अनुसार होगी तथा उन्हें भी अपना पक्ष रखने का मौका दिया जाएगा।”
उन्होंने एक अन्य ट्वीट में ममता सरकार पर हमला बोलते हुए कहा, “जब न्यायालय के अनुसार श्री सिंह की कार्रवाई असंवैधानिक है और उन्होंने कानून की इजाजत के बिना लोगों के जीने के अधिकार का अतिक्रमण किया है। अदालत ने उन्हें पुलिस की शक्तियों का दुरुपयोग करने तथा संविधान के खिलाफ कार्रवाई करने का दोषी पाया है तो ऐसे में ममता सरकार श्री सिंह का किस तरह से बचाव कर सकती है? ”
संतोष जितेन्द्र
वार्ता
More News
केरल में कोरोना सक्रिय मामले बढ़ कर 69700 के पार

केरल में कोरोना सक्रिय मामले बढ़ कर 69700 के पार

21 Jan 2021 | 9:30 PM

तिरुवनंतपुरम 21 जनवरी (वार्ता) केरल में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण के नये मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वाले मामलों में कमी होने के कारण सक्रिय मामलों की संख्या गुरुवार को बढ़ कर 69,700 के पार पहुंच गयी।

see more..
image