Wednesday, Feb 24 2021 | Time 23:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ममता ने कोरोना टीकाकरण पर मोदी को लिखा पत्र
  • ओडिशा में लापता युवती का शव नदी से बरामद
  • लोजपा कार्यकर्ताओं ने थामा जद-यू का दामन
  • उत्तराखंड में करंट लगने से महिला, घोड़े की मौत
  • अक्षर और अश्विन ने इंग्लैंड को 112 रन पर किया ढेर, भारत ने मैच पर कसा शिकंजा
  • अक्षर और अश्विन ने इंग्लैंड को 112 रन पर किया ढेर, भारत ने मैच पर कसा शिकंजा
  • मोटेरा स्टेडियम का नाम मोदी के नाम करना अधिनायकवाद मनोवृत्ति का परिचायक-डोटासरा
  • डिजिटल कंपनी के चयन में गड़बड़ी पर सरकार से जवाब तलब
  • तीसरे टेस्ट के पहले दिन का स्कोरबोर्ड
  • बजट में वादे तो हैं, इरादे दूर दूर तक नहीं दिखाई देते - वसुंधरा
  • सरकार का 100 संपदाओं के मौद्रिकरण का लक्ष्य: मोदी
  • बलिया में बाइक पर बिजली का तार टूट गिरा,तीन दोस्तों की मृत्यु
राज्य » अन्य राज्य


धार्मिक स्थलों में तोड़फोड़ करने वालों पर होगी कठाेर कार्रवाई: आस्मी

काकीनाडा 03 जनवरी (वार्ता) आंध्र प्रदेश में पूर्वी गोदावरी के पुलिस अधीक्षक अदनान नईम आस्मी ने चेतावनी दी है कि धार्मिक स्थलों पर तोड़फोड़ करने वालों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी।
श्री आस्मी ने रविवार को संवाददाताओं से कहा कि यह हर नागरिक का कर्तव्य है कि वह धार्मिक स्थलों की पवित्रता की रक्षा करे, चाहे वह मंदिर, चर्च, मस्जिद, दरोगा या गुरुद्वारा हो। साथ ही शांति और सार्वजनिक सौहार्द सुनिश्चित करके कानून व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस का सहयोग करे।
उन्होंने कहा कि जिले के कुछ स्थानों पर और राज्य के अन्य हिस्सों में भी धार्मिक संस्थाओं में तोड़फोड़ की गई है, जिससे लोगों में गंभीर चिंता पैदा हुई है और शांतिपूर्ण माहौल में खलल पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि इस तरह की प्रवृत्तियों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और गंभीरता से निपटा जाएगा।
उन्होंने कहा कि यह ट्रस्टियों, केयरटेकरों, अर्चकों, पुजारियों, पादरियों, इमामों और गुरुओं की ज़िम्मेदारी है कि वे उपद्रवियों के बारे में सतर्क रहें और यदि कोई भी व्यक्ति संदिग्ध हालात में घूम रहा हो तो पुलिस को मामले की रिपोर्ट करें। उन्होंने पवित्र स्थानों पर तोड़फोड़ की निंदा करते हुए कहा कि ऐसे असामाजिक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।
श्री आस्मी ने लोगों से अनुरोध किया कि वे धार्मिक स्थलों के आसपास संदिग्ध लोगों की आवाजाही के बारे में 100 नंबर या स्थानीय पुलिस को तुरंत कार्रवाई के लिए सूचित करें। उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों और सभी स्तर के कर्मियों को निर्देश दिया कि वे सभी धार्मिक स्थलों पर उचित सुरक्षा व्यवस्था करने में अन्य विभागों और स्थानीय लोगों के साथ समन्वय करें।
उन्होंने कहा कि सभी धार्मिक स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों की स्थापना और रात्रि के बीट सिस्टम के अलावा निरंतर गश्त की व्यवस्था सुनिश्चित की जानी चाहिए।
संजय, यामिनी
वार्ता
More News
अपहृत कर्मचारियों के लिए उल्फा को फिरौती नहीं देगी सरकार : हेमंता

अपहृत कर्मचारियों के लिए उल्फा को फिरौती नहीं देगी सरकार : हेमंता

24 Feb 2021 | 8:27 PM

गुवाहटी 24 फरवरी (वार्ता) असम के स्वास्थ्य मंत्री हेमंता बिस्वा शर्मा ने बुधवार को कहा कि राज्य सरकार अपहरण किये गए तेल कर्मचारियों के लिए उग्रवादी संगठन उल्फा (आई) को फिरौती की रकम नहीं देगी।

see more..
image