Monday, Apr 19 2021 | Time 23:36 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दिल्ली में कोरोना के 23000 से अधिक नये मामले, 240 की मौत
  • जडेजा-मोईन के दम पर चेन्नई ने राजस्थान को दी 45 रन से मात
  • जडेजा-मोईन के दम पर चेन्नई ने राजस्थान को दी 45 रन से मात
  • बैंक धोखाधड़ी मामले में सीबीआई के छापे
  • बंगाल में छठे चरण चुनाव का प्रचार समाप्त
  • छत्तीसगढ़ में मिले 13834 नए संक्रमित मरीज,रिकार्ड 175 की मौत
  • केंद्रीय मंत्री ने बिहार के लिए रेमडेसिविर का कोटा बढ़ाने का दिया आश्वासन : सुशील
  • मध्यप्रदेश में 12 हजार से अधिक कोरोना पॉजिटिव मिले, 79 की मौत
  • भूपेश ने कलेक्टरों को रेमडेसिविर और जीवन रक्षक दवाईयां खरीदने की दी अनुमति
  • मनमोहन सिंह के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की नायडू ने
  • एक मई से सभी युवा टीका लगवाने के पात्र होंगे
  • बिहार : कोरोना जांच की रफ्तार घटने के बावजूद संक्रमण की गति तेज, मिले 7487 नए मामले, 41 की मौत
  • डीआरडीओ ने ऑक्सीजन की कमी दूर करने वाली प्रणाली विकसित की
  • जयपुर में अध्यादेश उल्लंघन पर तीन लाख का जुर्माना वसूला
राज्य » अन्य राज्य


उत्तराखंड के थानों में शिकायती पत्र देने पर अब मिलेगी रिसीविंग

देहरादून 20 फरवरी (वार्ता) उत्तराखंड के सभी थानों में अब शिकायत कर्ता को उसकी शिकायत सुनने के साथ ही, पावती (रिसीविंग) भी दी जायेगी।
राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अशोक कुमार ने शनिवार को सभी जिला पुलिस प्रमुखों को यह अभूतपूर्व आदेश जारी कर दिये। उन्होंने प्रार्थना पत्र रिसीविंग की पद्धति को और अधिक सुदृढ़ बनाने के लिए सभी जिला प्रभारियों को प्रत्येक थाने पर गठित महिला हेल्प डेस्क को यह जिम्मेदारी देने के लिए भी निर्देशित किया है। महिला हेल्प डेस्क में नियुक्त कर्मी न केवल थाने में आने वाले हर आगंतुक, शिकायतकर्ता और पीड़ित को अटेंड करेंगे बल्की उनसे प्रार्थना पत्र रिसीव कर उन्हें उसकी रिसीविंग भी देंगे।
अपनी कार्यशैली से लोकप्रिय होते जा रहे श्री कुमार ने बताया कि प्रत्येक थाने पर स्थापित महिला हेल्प डेस्क रिसेप्शन सेंटर के रुप में काम करेगा। जिसमें रिसेप्शन रुम के अनुसार आगुन्तक अथवा शिकायतकर्ता और पीड़ित के लिए उचित सुविधाएं जैसे बैठने के लिए सहज व सुगमता पूर्ण व्यवस्था आदि होगी। उन्होंने बताया कि महिला हैल्प हेस्क में नियुक्त कर्मचारी करुण व सरल स्वभाव वाले होंगे तथा पीड़ित, दिव्यांगजन के प्रति संवेदनशीलपूर्वक व्यवहार करेंगे। यदि कोई पीड़ित/शिकायतकर्ता अपने साथ लिखित प्रार्थना पत्र नहीं लाया है तो उन्हें स्टेशनरी भी उपलब्ध कराएंगे।
उन्होंने बताया कि महिला हेल्प हेस्क में नियुक्त कर्मचारी प्रतिदिन प्राप्त होने वाले शिकायती प्रार्थना पत्र सूचनाओं को एक रजिस्टर में अंकन करेंगे, जिसे प्रतिदिन थाना प्रभारी द्वारा, 15 दिवस में क्षेत्राधिकारी द्वारा, 30 दिवस में पुलिस अधीक्षक द्वारा व प्रत्येक तिमाही/आकस्मिक रूप से जनपदीय प्रभारी द्वारा चैक किया जायेगा।
डीजीपी ने बताया कि हेल्प डेस्क कर्मचारी द्वारा जांचकर्ता अधिकारी द्वारा अथवा थाना प्रभारी द्वारा कर्तव्यपालन में लापरवाही बरते जाने पर जवाबदेही तय करते हुये सम्बन्धित के विरूद्व जनपदीय प्रभारी द्वारा आवश्यक वैधानिक कार्रवाई की जायेगी।
सं.संजय
वार्ता
More News
सीडीएस पहुंचे देहरादून, तीरथ से की भेंट

सीडीएस पहुंचे देहरादून, तीरथ से की भेंट

19 Apr 2021 | 10:42 PM

देहरादून 19 अप्रेल (वार्ता) भारत के चीफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (परम विशिष्ट सेवा पदक, अति विशिष्ट सेवा पदक, उत्तम युद्ध सेवा पदक, युद्ध सेवा पदक, सेना मेडल, विशिष्ट सेवा पदक, एडीसी) सोमवार को देहरादून पहुंचे। जहां उन्होंने मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत से बीजापुर हाउस में मुलाकात की।

see more..
तेलंगाना में कोरोना के 4009 नए मामले, 14 मरीजों की मौत

तेलंगाना में कोरोना के 4009 नए मामले, 14 मरीजों की मौत

19 Apr 2021 | 9:32 PM

हैदराबाद 19 अप्रैल (वार्ता) तेलंगाना में संक्रमण के मामलों में रिकॉर्ड वृद्धि जारी के बीच रविवार रात तक कोविड-19 के 4,009 नए मामले दर्ज किए गए। इसके साथ ही राज्य में कोरोना मामलों की कुल संख्या अब 3,55,433 हो गई है।

see more..
मोदी कोरोना की दूसरी लहर के लिए हैं जिम्मेदार :ममता

मोदी कोरोना की दूसरी लहर के लिए हैं जिम्मेदार :ममता

19 Apr 2021 | 7:45 PM

कालीगंज, 19 अप्रैल (वार्ता) पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने देश में काेरोना वायरस की दूसरी लहर के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है।

see more..
image