Monday, Sep 27 2021 | Time 16:07 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


उत्तराखंड में कोरोना डेल्टा प्लस वेरिएंट ने दी दस्तक, एक मरीज संक्रमित

नैनीताल, 07 जुलाई (वार्ता) उत्तराखंड में कोरोना वायरस महामारी का सबसे खतरनाक माने जाने वाला डेल्टा प्लस वेरिएंट दस्तक दे चुका है। प्रदेश में डेल्टा प्लस वेरिएंट का एक मरीज पाया गया है। इससे स्वास्थ्य महकमा सकते में आ गया है।
प्रदेश के स्वास्थ्य सचिव अमित नेगी ने यह जानकारी बुधवार को मुख्य न्यायाधीश आरएस चौहान की अगुवाई वाली खंडपीठ को दी गयी। इस दौरान अदालत में कोविड महामारी से जुड़ी विभिन्न जनहित याचिकाओं पर सुनवाई हुई। श्री नेगी ने बताया कि अभी तक 521 नमूने जांच के लिये नेशनल सेंटर फार डिजीज कंट्रोल (एनसीडीसी) भेजे जा गये हैं।
इनमें से 144 में डेल्टा वेरिएंट एवं एक में डेल्टा प्लस वेरिएंट की पुष्टि हुई है। डेल्टा प्लस वेरिएंट का मरीज उधमसिंह नगर जनपद में पाया गया है। इससे स्वास्थ्य महकमा सक्रिय हो गया है। विभाग की ओर से सुरक्षा के लिहाज से सभी आवश्यक कदम उठाये जा रहे हैं। क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया हैै और मरीज के परिजनों एवं अन्य लोगों के नमूने एकत्र कर जांच के लिये भेज दिये गये हैं।
अदालत ने सुनवाई के दौरान यह भी चिंता जताई कि सप्ताहांत में जुटने वाली पर्यटकों की भीड़ प्रदेश में कोरोना की तीसरी लहर का कारण न बन जाये। अदालत में यह तथ्य भी सामने आया कि पर्यटकों द्वारा कोरोना गाइड लाइन का पालन नहीं किया जा रहा है। इसलिये अदालत ने पर्यटकों की भीड़ पर लगाम लगाने और सरकार को लाकडाउन में सप्ताहांत में दी गयी छूट की समीक्षा करने के निर्देश दिये हैं।
रवीन्द्र, उप्रेती
वार्ता
More News
सेल्वगणपति राज्य सभा के लिए ‘निर्विरोध’ निर्वाचित घोषित

सेल्वगणपति राज्य सभा के लिए ‘निर्विरोध’ निर्वाचित घोषित

27 Sep 2021 | 3:13 PM

पुड्डुचेरी, 27 सितंबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) उम्मीदवार एस सेल्वगणपति केन्द्र शासित प्रदेश पुड्डुचेरी से राज्य सभा के सदस्य के रूप में निर्विरोध घोषित किये गये।

see more..
चक्रवाती तूफान गुलाब: आंध्र के तटवर्ती जिलों में भारी बारिश

चक्रवाती तूफान गुलाब: आंध्र के तटवर्ती जिलों में भारी बारिश

27 Sep 2021 | 3:01 PM

विजयवाड़ा, 27 सितंबर (वार्ता) चक्रवाती तूफान गुलाब के असर से आंध्र प्रदेश के तटवर्ती जिलों भारी बारिश हुई है जिससे कई आवासीय कॉलोनियां पानी में डूब गयी हैं, हजारों एकड़ में लगी फसल बारिश के पानी में डूब चुकी है तथा कई गांवों के सड़क संपर्क टूट चुके हैं।

see more..
image