Thursday, Oct 21 2021 | Time 00:55 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


पिथौरागढ़ में तेंदुए के आतंक के चलते रात्रि कर्फ्यू

नैनीताल 22 सितंबर (वार्ता) उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जनपद मुख्यालय में एक अनोखा मामला सामने आया है। यहाँ तेंदुए के आतंक के चलते जिला प्रशासन की ओर से शहर से सटे क्षेत्रों में रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है। कर्फ्यू का सख्ती से पालन के निर्देश दिए गए हैं।
यह पहली बार है कि वन्य जीवों के आतंक के चलते प्रदेश में कर्फ्यू लगाया गया है। बताया जा रहा है कि पिथौरागढ़ जनपद मुख्यालय में लंबे समय से तेंदुए का आतंक चल रहा है। विगत 19 सितम्बर को तेंदुए ने जनपद मुख्यालय से सटे बजेटी गांव से सात साल की एक अबोध बच्ची पर शाम के समय हमला कर दिया था और उसे को घर से उठाकर ले गया था। अगले दिन घर के समीप ही शव मिला था। इसके बाद प्रशासन सक्रिय हुआ और एक दिन बाद ही तेंदुए को वन विभाग ने पिंजरे में कैद कर लिया था।
पिथौरागढ़ के उप जिला अधिकारी नन्दन कुमार ने बताया कि पिथौरागढ़ जनपद मुख्यालय के बजेटी, पौण, पपदेव, जीआइसी रोड, चण्डाक एवं रई क्षेत्र में तेंदुए के बढ़ते आतंक के मद्देनजर रात्रि कर्फ्यू लगाया गया है। इसके तहत शाम छह बजे से प्रातः छह बजे तक लोगों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध रहेगा। प्रशासन ने कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिये हैं ।
रवीन्द्र.संजय
वार्ता
More News
कुमाऊं में आपदा का कहर: 49 लोगों की मौत, 14 घायल

कुमाऊं में आपदा का कहर: 49 लोगों की मौत, 14 घायल

20 Oct 2021 | 9:27 PM

नैनीताल, 20 अक्टूबर (वार्ता) उत्तराखंड के कुमाऊं मंडल में आयी आपदा में अभी तक 49 लोगों की मौत हो गयी है और 14 लोग घायल हुई है जबकि छह लोग लापता हैं।

see more..
उत्तराखंड आपदा: मरने वालों की संख्या 52 हुई, पांच अब भी लापता

उत्तराखंड आपदा: मरने वालों की संख्या 52 हुई, पांच अब भी लापता

20 Oct 2021 | 8:48 PM

देहरादून 20 अक्टूबर (वार्ता) उत्तराखंड में रविवार सुबह से मंगलवार तक लगभग 48 घण्टे हुई अतिवृष्टि, बाढ़ और भूस्खलन की चपेट में आकर मरने वालों की संख्या बढ़कर 52 हो गई है, जबकि पांच व्यक्ति अब भी लापता है।

see more..
image