Thursday, Jun 20 2024 | Time 13:56 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


बीरेन सिंह ने की मणिपुर में शांति की अपील, स्थिति तनावपूर्ण

इंफाल, 04 मई (वार्ता) मणिपुर के मुख्यमंत्री एन. बीरेन सिंह ने दो समुदायों के बीच झड़पों के बाद गुरुवार को राज्य में शांति बनाये रखने की अपील की।
श्री सिंह ने कहा कि लोगों को गलत संदेश तथा अफवाहें नहीं फैलानी चाहिए और सभी को राज्य में सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी चाहिए। उन्होंने सभी नेताओं, नागरिक समाज के प्रतिनिधियों और आम लोगों से शांति बहाल करने के लिए मिलकर काम करने की अपील की।
मणिपुर में ऑल ट्राइबल स्टूडेंट्स यूनियन, मणिपुर द्वारा उच्च न्यायालय के उस आदेश के खिलाफ एक विरोध रैली आयोजित करने के बाद बुधवार को दो समुदायों के बीच झड़प शुरू हो गयी, जिसमें राज्य सरकार को मेइतेई को अनुसूचित जनजाति सूची में शामिल करने की मांग पर निर्णय लेने का निर्देश दिया गया था।
हिंसा के दौरान बिशनपुर, मोरेह, इंफाल पूर्व, इंफाल पश्चिम, चुराचांदपुर जिलों में बड़ी संख्या में मकान जला दिये गये। चुराचांदपुर जिले से महिलाओं के कथित दुष्कर्म की खबरें आने के बाद पूरे राज्य में बड़े पैमाने पर विरोध-प्रदर्शन शुरू हो गया। सुरक्षा बलों ने गुरुवार को कई जगहों पर फंसे लोगों को सुरक्षित निकाला।
सेना के एक अधिकारी ने बताया कि चुराचांदपुर, कांगपोकपी और इंफाल जिलों के कई इलाकों में हिंसा भड़क गयी है। स्थानीय प्रशासन ने तीन और चार मई की दरम्यानी रात को सेना और असम राइफल्स के जवानों को तैनात करने की मांग की।
इसके बाद मणिपुर पुलिस के साथ सेना और असम राइफल्स की टुकड़ियों ने स्थिति को नियंत्रित करने के लिए तुरंत हस्तक्षेप किया। सुबह होने तक हिंसा पर काबू पा लिया गया। हिंसाग्रस्त क्षेत्रों के लगभग 4000 ग्रामीणों को विभिन्न स्थानों पर विभिन्न सेना/असम राइफल्स शिविरों और राज्य सरकार के परिसरों में आश्रय प्रदान किया गया है।
विभिन्न स्थानों पर स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए फ्लैग मार्च किया जा रहा है। ग्रामीणों को सुरक्षित क्षेत्रों में स्थानांतरित करने का कार्य भी प्रगति पर है।
राज्य में स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है और स्थिति को नियंत्रित करने के लिए राज्य बलों की मदद के लिए केंद्रीय सुरक्षाकर्मी गुरुवार को यहां पहुंच गये। सरकार ने तनाव पर नियंत्रण के लिए बुधवार को कर्फ्यू लगा दिया और मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को निलंबित कर दिया।
यामिनी,आशा
वार्ता
More News
तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से तेरह लोगों की मौत

तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से तेरह लोगों की मौत

19 Jun 2024 | 11:56 PM

चेन्नई 19 जून (वार्ता) तमिलनाडु के कल्लाकुरिची जिले के करुणापुरम गांव में बुधवार को कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई और कई अन्य बीमार हो गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

see more..
तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत, 10 से अधिक अस्पताल में भर्ती

तमिलनाडु में जहरीली शराब पीने से पांच लोगों की मौत, 10 से अधिक अस्पताल में भर्ती

19 Jun 2024 | 8:34 PM

चेन्नई, 19 जून (वार्ता) तमिलनाडु के कल्लाकुरिची जिले में बुधवार को कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से कम से कम पांच लोगों की मौत हो गयी और 10 से अधिक लोग बीमार हो गये, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

see more..
पवन कल्याण ने आंध्र प्रदेश के उपमुख्यमंत्री का पदभार संभाला

पवन कल्याण ने आंध्र प्रदेश के उपमुख्यमंत्री का पदभार संभाला

19 Jun 2024 | 8:07 PM

विजयवाड़ा, 19 जून (वार्ता) फिल्म अभिनेता से राजनेता बने जन सेना पार्टी के प्रमुख के. पवन कल्याण ने बुधवार को अमरावती स्थित सचिवालय में आंध्र प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और पंचायत राज, ग्रामीण विकास एवं पर्यावरण मंत्री के रूप में पदभार संभाला।

see more..
कैंची धाम अलौकिक शक्ति का केन्द्र: सिंह

कैंची धाम अलौकिक शक्ति का केन्द्र: सिंह

19 Jun 2024 | 8:00 PM

नैनीताल, 19 जून (वार्ता) उत्तराखंड के राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल (सेनि.) गुरमीत सिंह ने बुधवार को कैंची धाम पहुंचकर बाबा नीब करौरी महाराज के दर्शन किए। उन्होंने प्रदेश की समृद्धि एवं खुशहाली की कामना की।

see more..
image