Saturday, Jul 20 2024 | Time 14:58 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


त्रिपुरा में यौन उत्पीड़न के दोषी व्यक्ति को 12 साल की सजा

अगरतला, 20 फरवरी (वार्ता) त्रिपुरा के गोमती जिले की जिला एवं सत्र अदालत ने मंगलवार को एक व्यक्ति को तीन साल पहले अपनी नाबालिग साली के अपहरण और यौन उत्पीड़न के मामले में दोषी ठहराया तथा 12 साल कैद की सजा सुनाई।
आरोपी ने अपनी साली का उस समय अपहरण किया जब वह अपने रिश्तेदार के यहां जा रही थीं। उसने उनको चेन्नई लाकर एक किराए पर घर पर रखा और जबरन यौन उत्पीड़न किया। परिवारवालों को जब किशोरी के लापता होने की खबर लगी, तब महिला के पिता ने ककराबन थाने में अपनी पुत्री के अपहरण का आरोप लगाते हुए अपने दामाद राजीव के खिलाफ मामला दर्ज कराया। जांच के दौरान, लगभग एक महीने बाद, पुलिस ने राजीव को अगरतला हवाई अड्डे पर किशोरी के साथ देखा और उसे गिरफ्तार कर लिया। पीड़िता ने चेन्नई में हुयी आपबीती सुनाई और आरोपी ने भी पुलिस के सामने अपना जुर्म कबूल कर लिया ।
उन्होंने बताया कि राजीव 2020 में शादी करने के बाद कुछ महीनों से अपनी पत्नी को प्रताड़ित कर रहा था। जिसके बाद, महिला का देवर अपनी भाभी को अनुचित प्रस्ताव देने और कई मौकों पर उनके प्रति असामान्य व्यवहार दिखाने के बाद परेशानी बढ़ गई थी।
गौरतलब है कि तीन जून, 2021 को आरोपी ने अपनी पत्नी को अगरतला में एक रिश्तेदार के घर भेज दिया। उसके बाद, उसने मौके का फायदा उठाकर अपनी साली का अपहरण किया और उसके साथ जबरदस्ती यौन उत्पीड़न किया।
विशेष लोक अभियोजक पलटू दास ने बताया कि आरोपी अमरपुर निवासी राजीव कर्माकर है। जिसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 363 और पॉक्सो अधिनियम के तहत दोषी मामला दर्ज कर लिया गया। उसे 12 साल की कैद और 10 हजार रुपये का जुर्माना तथा डिफ़ॉल्ट रूप में तीन महीने की अतिरिक्त कैद की सजा सुनाई गई।
जांच अधिकारी ने सावधानीपूर्वक साक्ष्य संकलित किए और आरोप पत्र प्रस्तुत किया। इस मामले की सुनवाई शुरू की और अदालत ने 16 गवाहों की गवाही दर्ज की। लंबी सुनवाई के बाद, अदालत ने उसे दोषी करार दिया और फैसला सुनाया।
श्रद्धा.संजय
वार्ता
More News
लोपार तूफान के कारण ओडिशा में और अधिक बारिश के आसार

लोपार तूफान के कारण ओडिशा में और अधिक बारिश के आसार

20 Jul 2024 | 12:12 AM

भुवनेश्वर, 19 जुलाई (वार्ता) उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना कम दबाव का क्षेत्र शुक्रवार को दक्षिण ओडिशा और उत्तरी आंध्र प्रदेश तट के क्षेत्र में एक दबाव क्षेत्र में बदल गया।

see more..
कानून-प्रवर्तन एजेंसियों के अलावा किसी को प्रवासी श्रमिकों के कागजात की जांच करने का अधिकार नहीं: संगमा

कानून-प्रवर्तन एजेंसियों के अलावा किसी को प्रवासी श्रमिकों के कागजात की जांच करने का अधिकार नहीं: संगमा

20 Jul 2024 | 12:09 AM

शिलांग, 19 जुलाई (वार्ता) मेघालय के मुख्यमंत्री कॉनराड संगमा ने शुक्रवार को दोहराया कि कानून-प्रवर्तन एजेंसियों को छोड़कर, राज्य में प्रवासी श्रमिकों के कागजात की जांच करने का अधिकार किसी को नहीं है। हालांकि खासी छात्र संघ (केएसयू) ने कहा कि वह राज्य के बाहर से आए श्रमिकों के दस्तावेजों की जांच जारी रखेगी।

see more..
बीरेन ने लोगों से की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की अपील

बीरेन ने लोगों से की अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की अपील

19 Jul 2024 | 9:15 PM

इंफाल, 19 जुलाई (वार्ता) मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने लोगों से पिछले कुछ महीनों से हिंसा के कारण प्रभावित हुयी अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने की अपील की है।

see more..
image