Sunday, Apr 14 2024 | Time 09:28 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


उत्तराखंड: महिलाओं को मौत के घाट उतारने वाला आदमखोर पकड़ा गया

नैनीताल, 21 फरवरी (वार्ता) कार्बेट पार्क से सटे गांवों में आतंक का पर्याय बने आदमखोर बाघ (टाइगर) को वन विभाग की टीम ने बीती देर रात को आखिरकार पकड़ लिया है। बाघ का डीएनए जांच के लिये हैदराबाद भेजा जा रहा है।
कार्बेट टाइगर रिजर्व (सीटीआर) के निदेशक धीरज पांडे ने बुधवार को इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि बाघ को ढेला रेंज के पतरूवा पूर्वी बीट से बीती देर रात को रेस्क्यू किया गया। बाघ की उम्र सात से आठ साल बतायी जा रही है। उसे सुबह ढेला रेस्क्यू सेंटर लाया गया।
आदमखोर बाघ अभी तक सीटीआर से सटे ढेला, पटरानी गांव की तीन महिलाओं को अपना शिकार बना चुका है। तीन दिन पहले ही बाघ ने ढेला के जंगल में लकड़ी बीन रही कला देवी को निवाला बना लिया था।
इससे ग्रामीण भड़क गये थे और उन्होंने सीटीआर प्रशासन को तीन दिन की मोहलत देते हुए कार्बेट पार्क में पर्यटन गतिधियों को ठप करने की चेतावनी जारी कर दी थी। घटना के बाद सीटीआर प्रशासन की ओर से घटनास्थल के आसपास पिंजरे लगाये गये।
इस बीच सीटीआर के निदेशक श्री पांडे की अगुवाई में कई टीमें लगातार बाघ को पकड़ने के लिये सर्च अभियान चला रही थी। बीती रात को जिस टीम को सफलता हाथ लगी उसमें निदेशक श्री पांडे, पशु चिकित्सक डा. दुष्यंत शर्मा, रेंजर अजय ध्यानी के अलावा अन्य सुरक्षाकर्मी शामिल रहे।
श्री पांडे ने बताया कि आदमखोर की पुष्टि के लिये बाघ के डीएनए सैम्पल को हैदराबाद भेजा जा रहा है। तब तक बाघ को ढेला रेस्क्यू सेंटर में रखा जायेगा।
हालांकि उन्होंने बताया कि बाघ को उसी स्थल से पकड़ा गया है जहां उसने महिला का शिकार किया था। इससे जानकार मान रहे हैं कि यह वही आदमखोर है जो अभी तक तीन महिलाओं को मौत के घाट उतार चुका है। फिलहाल ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।
रवीन्द्र.संजय
वार्ता
More News
भाजपा त्रिपुरा की दोनों सीटों पर दर्ज करेगी ऐतिहासिक जीत: साहा

भाजपा त्रिपुरा की दोनों सीटों पर दर्ज करेगी ऐतिहासिक जीत: साहा

13 Apr 2024 | 11:52 PM

अगरतला, 13 अप्रैल (वार्ता) त्रिपुरा के मुख्यमंत्री माणिक साहा ने शनिवार को कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में स्थापित विकास, वाणिज्य और शांति के मुद्दे पर सवार होकर आगामी चुनावों में राज्य की दोनों संसदीय सीटों पर भारी जीत दर्ज करने का भरोसा है।

see more..
image