Saturday, Apr 13 2024 | Time 03:03 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


विस से हटाये गये 232 तदर्थ कर्मियों के मामले में सुनवाई अंतिम दौर में

नैनीताल, 24 फरवरी (वार्ता) उत्तराखंड विधानसभा से हटाये गये 232 तदर्थ कर्मियों के मामले में सुनवाई अंतिम दौर में पहुंच गयी है। गुरुवार को सुनवाई का अंतिम दिन हो सकता है।
न्यायमूर्ति पकंज पुरोहित की पीठ में इस प्रकरण में सुनवाई चल रही है। शीतकालीन अवकाश के बाद इस मामले में आज पहली बार सुनवाई हुई। याचिकाकर्ता पहले ही अपना पक्ष रख चुके हैं।
आज विधानसभा की ओर से अपना पक्ष रखा गया। विधानसभा की ओर से पेश उच्चतम न्यायालय के अधिवक्ता आनंद मोहन तिवारी की ओर से कहा गया कि सारी नियुक्तियां अवैध और असंवैधानिक हैं। साथ ही विधानसभा को तदर्थ कर्मियों को हटाने का अधिकार है।
उन्होंने आगे कहा कि कोटिया कमेटी की संस्तुति के आधार पर उन्हें हटाया गया है। कोटिया कमेटी ने सारी नियुक्तियों को अवैध माना था। साथ ही कहा कि उनकी सेवा शर्तों में स्पष्ट उल्लेख है कि उनकी सेवा बिना बताये समाप्त की जा सकती है।
कुल मिलाकर विधानसभा की ओर से आज बहस पूरी कर ली गयी है। इस मामले में कल गुरूवार को भी सुनवाई होगी और याचिकाकर्ताओं की ओर से प्रतिवादी की ओर से रखे गये तथ्यों का जवाब दिया जायेगा।
माना जा रहा है कि दोपहर बाद सुनवाई पूरी हो जाने के बाद अदालत इस मामले में अपना निर्णय सुरक्षित रख सकती है।
गौरतलब है कि अक्टूबर 2022 में विधानसभा सचिवालय ने कार्यवाही करते हुए 232 तदर्थ कर्मचारियों को नौकरी से हटा दिया था। इसके बाद इन कर्मचारियों की ओर से बर्खास्तगी आदेश को उच्च न्यायालय में चुनौती दी गयी है।
रवीन्द्र.संजय
वार्ता
image