Sunday, Jun 23 2024 | Time 06:59 Hrs(IST)
image
राज्य » अन्य राज्य


बंगाल में एक बजे तक करीब 52 प्रतिशत मतदान

कोलकाता 13 मई (वार्ता) पश्चिम बंगाल की आठ लोकसभा सीटों पर चौथे चरण के चुनाव में सोमवार अपराह्न एक बजे तक पहले छह घंटों में लगभग 1.5 करोड़ से अधिक मतदाताओं में से 52 प्रतिशत ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया।
चुनाव आयोग (ईसी) सूत्रों के मुताबिक बोलपुर में 54.81 फीसदी, कृष्णानगर में 49.72 फीसदी, राणाघाट में 52.70 फीसदी, बर्धमान पूर्व में 55.87 फीसदी, बर्धमान दुर्गापुर में 50.30 फीसदी, आसनसोल में 49.55 फीसदी, बीरभूम में 49.63 फीसदी और बहरामपुर में 52.27 फीसदी मतदान हुआ।
इस बीच बोलपुर लोकसभा क्षेत्र में बूथ संख्या 186/187 के पास भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) शिविर में आज सुबह तोड़फोड़ होने के बाद भाजपा और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) समर्थकों के बीच तनाव बढ़ गया। बाद में सूरी की स्थानीय पुलिस पहुंची और स्थिति पर नियंत्रण किया।
नादिया में कृष्णानगर लोकसभा क्षेत्र के तहत छपरा के बनियाखाली में एक मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) एजेंट को कथित टीएमसी समर्थकों द्वारा पीटने के बाद दो घंटे के लिए बूथ से बाहर निकाल दिया गया था, लेकिन स्थानीय माकपा नेताओं ने केन्द्रीय बलों की मदद से उसे वापस ले लिया।
बीरभूम के हासन में कथित टीएमसी समर्थकों द्वारा पिटाई के बाद भाजपा का पोलिंग एजेंट घायल हो गया, हालांकि, सत्तारूढ़ पार्टी ने इससे इनकार किया है। स्थानीय लोगों, खासकर महिलाओं ने भाजपा एजेंट पर हमले का विरोध किया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पुलिस पहुंची।
अनुमान है कि 15,507 से अधिक मतदान केंद्रों पर फैले 71,45,379 महिलाओं और 282 तीसरे लिंगों सहित 1.5 करोड़ से अधिक मतदाता 16 महिलाओं सहित लगभग 75 उम्मीदवारों के चुनावी भाग्य का फैसला करेंगे।
आठ संसदीय सीटों बहरामपुर, राणाघाट (सु), कृष्णानगर, बर्धमान पूर्व , बर्धमान-दुर्गापुर, आसनसोल, बोलपुर और बीरभूम लोकसभा सीटों के लिए मुख्य मुकाबला सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस, मुख्य विपक्षी भारतीय जनता पार्टी और संयुक्त वाम-कांग्रेस के उम्मीदवारों के बीच है। जहां टीएमसी और भाजपा सभी आठ सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं, वहीं वाम मोर्चा छह सीटों पर और कांग्रेस दो सीटों पर चुनाव लड़ रही है।
राज्य चुनाव अधिकारी ने बताया कि चौथे चरण में लगभग 70,641 मतदाता 80 वर्ष से अधिक उम्र के हैं, जिनमें से कई पहले ही घरेलू मतदान सुविधाओं का उपयोग करके वोट डाल चुके हैं। नए मतदाताओं में 18-19 वर्ष की आयु के 23,544 लोग हैं। कुल 15,507 बूथों में से 3,647 संवेदनशील और हिंसाग्रस्त है। महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केंद्र 791 हैं, जबकि पांच बूथों को विशेष रूप से सक्षम मतदान कर्मियों द्वारा नियंत्रित किया जाना है। मतदान पैनल के अनुसार, बूथों में से 42 मॉडल हैं।
आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि कुल मिलाकर, स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान सुनिश्चित करने के लिए 596 सीएपीएफ और 33,472 से अधिक राज्य पुलिस को तैनात किया गया है।
दक्षिण बंगाल निर्वाचन क्षेत्रों में प्रमुख उम्मीदवार बहरामपुर से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर रंजन चौधरी, टीएमसी की महुआ मोइत्रा (कृष्णानगर) और शत्रुघ्न सिन्हा (आसनसोल), पूर्व क्रिकेटर यूसुफ पठान (बहरामपुर) और कीर्ति आज़ाद (बर्धमान-दुर्गापुर), भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष (बर्धमान-दुर्गापुर) और पूर्व केंद्रीय मंत्री एस एस अहलूवालिया (आसनसोल) हैं।
संजय, यामिनी
वार्ता
More News
अय्यन्नापतरुडु  आंध्र विधानसभा के अध्यक्ष बने

अय्यन्नापतरुडु आंध्र विधानसभा के अध्यक्ष बने

22 Jun 2024 | 8:36 PM

विजयवाड़ा, 22 जून (वार्ता) श्री चिंताकायला अय्यन्नापतरुडु को शनिवार को सर्वसम्मति से आंध्र प्रदेश विधानसभा का अध्यक्ष चुना गया।

see more..
बीटीसी की रेसिंग और सट्टेबाजी गतिविधियों पर हाईकोर्ट की रोक

बीटीसी की रेसिंग और सट्टेबाजी गतिविधियों पर हाईकोर्ट की रोक

22 Jun 2024 | 6:24 PM

बेंगलुरु ,22 जून (वार्ता) कर्नाटक उच्च न्यायालय ने एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम में बेंगलुरु टर्फ क्लब (बीटीसी) को ऑन-कोर्स और ऑफ-कोर्स घुड़दौड़ तथा सट्टेबाजी गतिविधियों को जारी रखने की अनुमति देने वाले एकल न्यायाधीश के आदेश पर रोक लगा दी है।

see more..
image