Saturday, Nov 28 2020 | Time 10:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मराठवाड़ा क्षेत्र में कोरोना के 443 नये मामले, पांच की मौत
  • ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक की हत्या
  • सोमालिया में आतंकवादी हमला, छह की मौत, 12 घायल
  • पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार तीसरे दिन बढ़े
  • अमेरिका में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 3 तीन करोड़ के पार
  • सीरिया में सुरंगी विस्फोट में दो बच्चों की मौत
  • बेल्जियम में एक दिसंबर से लॉकडाउन में हल्की छूट की संभावना
  • रूस के मास्कों में कोरोना से अबतक 8756 मौतें
  • इटली में कोरोना से 15 लाख से अधिक लोग संक्रमित
  • सार्जनिक जगहों पर निशुल्क कोरोना जांच करेगी तेलंगना सरकार
  • ईरान में कोरोना संक्रमितों की संख्या 922,397 हुई
पार्लियामेंट


समुद्री परिवहन को बढावा देने से अर्थव्यस्था में होगा बडा सुधार

नयी दिल्ली, 23 सितम्बर (वार्ता) लोकसभा में सदस्यों ने ‘महापत्तन प्राधिकरण विधेयक 2020’ काे समय की जरूरत बताते हुए आज कहा कि इससे देश में समुद्री परिवहन को बढ़ावा मिलने के साथ ही अर्थव्यवस्था को बड़ा लाभ होगा और कारोबार को नयी गति मिल सकेगी।
भारतीय जनता पार्टी की भारती बेन सुयाल ने विधेयक पर चर्चा की शुरुआत करते हुए कहा कि सरकार की येाजनाओं से तटीय क्षेत्रों का विकास हो रहा है। उन्होंने कहा कि बीच में कईं देशों के जहाज भावनगर नहीं आ रहे थे लेकिन पोत परिवहन मंत्री ने सिंगापुर सहित कई देशों के साथ समझौता किया है जिसके कारण वहां के जहाज इस बंदरगाह पर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बंदरगाह पर कुछ जहाजों का भी निर्माण होता था लेकिन वह अब बंद हो गया है इसलिए सरकार से आग्रह है कि इन्हें दोबारा शुरु किया जाए।
वाईएसआर के कृष्ण डी लावू ने कहा कि केंद्र सरकार बड़े बंदरगाहों के विकास के लिए जो काम कर रही है उससे न सिर्फ समुद्री परिवहन को बढ़ावा मिलेगा बल्कि स्थानीय स्तर पर लोगों को भी रोजगार के अवसर उपलब्ध होंगे। उन्होंने उम्मीद जतायी कि बडे बंदरगाहों का लाभ वहां के स्थानीय लोगों को भी मिलेगा। बीजू जनता दल के अनुभव मोहंती ने कहा कि पारादीप बंदरगाह का नाम ओडिशा के पूर्व मुख्यमंत्री तथा बीजू जनता दल के संस्थापक बीजू पटनायक के नाम पर होना चाहिए।
जनता दल के कौशलेंद्र कुमार ने कहा कि समुद्री परिवहन में हम पिछड़ रहे हैं और यह विधेयक इस दिशा में महत्वपूर्ण साबित होगा और भारत अंतरराष्ट्रीय स्तर पर समुद्री परिवहन का बड़ा हिस्सा बनेगा। इस विधेयक से देश मेंं व्यापार और सरल होगा तथा स्वतंत्र और स्वायत्त प्राधिकरण से समुद्री परिवहन को बढावा मिलेगा। अन्नाद्रमुक के रवींद्रनाथ कुमार ने सरकार की नीतियों का समर्थन करते हुए कहा कि पोत परिवहन को बढ़ावा देने के लिए महापत्तनों को नये और अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाना बहुत जरूरी है।
भाजपा की दर्शना विक्रम जरदोस ने कहा कि सूरत बहुत बड़ा कारोबारी क्षेत्र हैं और नये उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए क्षेत्र में बड़े बंदरगाह की महती जरूरत थी। सरकार ने जिन 12 महापत्तनों के विस्तार की योजना बनायी है उसका लाभ उनके क्षेत्र को भी मिलेगा और इससे पत्तनों का काम भी बेहतर हो सकेगा। इससे स्थानीय लोगों को भी राेजगार के नये अवसर मिलेंगे।
भाजपा के गोपाल सेठी ने इस विधेयक का समर्थन किया और कहा कि बाम्बे पोर्ट में कईं झोंपड पट्टियां हैं उन लोगों को भी नयी जगह मिलनी चाहिए और उनके रहने की व्यवस्था सरकार को करनी चाहिए।
अभिनव जितेन्द्र
वार्ता
There is no row at position 0.
image