Friday, Jun 22 2018 | Time 08:39 Hrs(IST)
image
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका का कारोबारी संरक्षणवाद ‘पागलपन’ का लक्षण
  • ट्रंप की विदेश नीति से यूरोप होगा सशक्त
  • ट्रंप की विदेश नीति से यूरोप होगा सशक्त
  • संपूर्ण परमाणु निरस्त्रीकरण की शुरुआत हो चुकी : ट्रंप
  • यूरोप पहुंचने के प्रयास में लीबिया तटों पर 220 विस्थापित डूबे
  • अमेरिका की सीमा नीति ‘सख्त’ होनी चाहिए: ट्रंप
  • मेलेनिया ट्रंप ने हिरासत में लिए गये विस्थापित बच्चों से की मुलाकात
  • क्रोएशिया ने मैसी की अर्जेंटीना को 3-0 से पीटा
  • क्रोएशिया ने मैसी की अर्जेंटीना को 3-0 से पीटा
  • आधुनिक चिकित्सा पद्धति के साथ योग व आयुर्वेद को अपनाने की जरुरत: मोदी
  • अमेरिका विस्थापित अभिभावकों के मुकदमों पर रोक लगायेगा
  • सीरिया के देरा में हमले चिंताजनक: सं रा
  • कश्मीर के राज्यपाल ने सर्वदलीय बैठक बुलायी
पार्लियामेंट Share

भारतीय की सुरक्षा पहले,अमेरिका के साथ रणनीतिक भागीदारी उसके बाद: सुषमा

भारतीय की सुरक्षा पहले,अमेरिका के साथ रणनीतिक भागीदारी उसके बाद: सुषमा

नयी दिल्ली 20 मार्च (वार्ता) विदेशी मंत्री सुषमा स्वराज ने आज कहा कि मोदी सरकार के लिए विदेश में रह रहे भारतीयों और भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा सर्वोच्च हैं तथा अमेरिका के साथ रणनीतिक भागीदारी उसके बाद आती है। श्रीमती स्वराज ने अमेरिका में रह रहे भारतीय नागरिकों और भारतीय मूल के लोगों पर हाल में हुए हमलों के संबंध में राज्यसभा में अपने वक्तव्य में कहा कि अमेरिका समेत विदेशों में बसे भारतीय नागरिकों और भारतीय मूल के लोगों की सुरक्षा और संरक्षा सरकार के लिए सबसे पहले है। अमेरिका के साथ रणनीतिक भागीदारी या दूसरे संबंधों का स्थान उसके बाद है। सरकार भारतीयों के हितों की सुरक्षा के प्रति जागरुक हैं और इसके लिए लगातार प्रयत्नशील रहती है। उन्होंने कहा कि अमेरिका में भारतीय लोगों पर हुए लगातार हमलों पर सरकार सतर्क हैं और इन्हें कानून एवं व्यवस्था की समस्या नहीं बल्कि घृणा जनित अपराध मानती है। सरकार का मानना है कि ये घृणा जनित अपराध हैं और इनकी जांच इसी दृष्टिकोण से की जानी चाहिए। सरकार ने अमेरिका प्रशासन से भी यही दृष्टिकोण अपनाने पर जोर दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार स्वयं भी अमेरिका में हुई घटनाओं पर लगातार नजर रख रही है और देख रही है कि यह कोई चलन तो नहीं बन रहा है। सत्या जारी वार्ता

More News
हंगामे की भेंट चढ़ा संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण

हंगामे की भेंट चढ़ा संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण

06 Apr 2018 | 3:51 PM

नयी दिल्ली 06 अप्रैल (वार्ता) संसद के बजट सत्र का दूसरा चरण पूरी तरह विपक्ष के हंगामें की भेंट चढ़ गया और दोनों सदनों में किसी भी मुद्दे तथा विधेयक पर चर्चा नहीं हो पायी और एक दिन भी प्रश्नकाल एवं शून्यकाल नहीं हो सका।

 Sharesee more..

06 Apr 2018 | 1:29 PM

 Sharesee more..

06 Apr 2018 | 1:25 PM

 Sharesee more..

06 Apr 2018 | 1:11 PM

 Sharesee more..
image