Monday, May 25 2020 | Time 16:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • हमीरपुर में बच्चे समेत दो कोरोना पॉजिटिव, संख्या बढ़कर हुई छह
  • कोरोना से अजमेर में एक युवक की मौत
  • स्थिर रहे जिंसों के दाम
  • औरैया में ईद पर भीड़ एकत्रित करने पर 26 नमाजी गिरफ्तार
  • प्रवासी मजदूरों को महाराष्ट्र आने के लिए अनुमति लेनी होगी: ठाकरे
  • बलबीर के लिए शुभ साबित हुई 13 नंबर की जर्सी
  • एम्बुलेंस के पेड़ से टकराने से तीन लोगों की मौत
  • चंपावत के बनबासा में एकत्र डेढ़ हजार नेपाली अपने वतन लौटे
  • मनप्रीत और रानी ने बलबीर सिंह को दी श्रद्धांजलि
  • पूर्वी चंपारण में दो प्रवासी मजदूर की मौत
  • सचिन ने बलबीर के निधन पर जताया शोक
  • हरियाणा में कोरोना के तीन नये मामले, कुल संख्या 1187 हुई, 16 लोगों की मौत
  • सिंह ने नेताओं के दो से तीन पदों की जिम्मेदारी पर उठाये सवाल
  • स्वदेशी तेजस बढायेंगे अठाहरवें स्क्वाड्रन की शान
  • भदौरिया 27 मई को एलसीए तेजस में भरेंगे उड़ान
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


अनिल शर्मा अब विधानसभा से भी इस्तीफा दें: भाजपा मंत्री

शिमला, 12 अप्रैल(वार्ता) हिमाचल प्रदेश की भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) सरकार में मंत्री पद से इस्तीफा देने वाले श्री अनिल शर्मा अब सरकार के अन्य मंत्रियों के निशाने पर आ गये हैं जिन्होंने उनसे अब विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा देने की मांग की है।
सरकार के वरिष्ठ मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर, रामलाल मारकंडा और गोविन्द सिंह ठाकुर ने आज यहां एक संयुक्त बयान जारी कर श्री शर्मा में जरा सी भी नैतिकता नहीं बची है अन्यथा वह विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा देते और पुन: जनादेश हासिल करते। इससे उन्हें अपनी हैसियत का भी पता चल जाता। इन नेताओं ने कहा कि भाजपा के टिकट पर चुनाव जीतकर मंत्री बने श्री शर्मा को विधायक रहने का भी कोई अधिकार नहीं है। उनमें पुन: चुनाव लड़ने की हिम्मत नहीं है इसलिए वह विधायक पद से इस्तीफा नहीं दे रहे हैं। इन्होंने श्री शर्मा को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के खिलाफ अनर्गल और भद्दी बयानबाजी बंद करने की भी चेतावनी दी।
इन मंत्रियों ने कहा कि मंडी की जनता ने भाजपा पर भरोसा कर श्री शर्मा को चुनाव जिताया था। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने उन्हें मंत्री पद देकर मंडी की जनता के प्रति अपना आभार जताया था। लेकिन श्री शर्मा ने परिवारवाद में फंस कर मंडी की जनता से विश्वासघात किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि श्री शर्मा मंत्री रहते हुए मंडी के विकास में रूचि लेने के बजाय अपने परिवार के विकास में जुट गये। जनता से ज्यादा अपने परिवार के प्रति निष्ठा रखने वाले श्री शर्मा को मंडी की जनता कभी माफ नहीं करेगी।
भाजपा मंत्रियों ने दावा किया कि कांग्रेस ने श्री शर्मा के पुत्र आश्रय शर्मा जैसे कमजोर उम्मीदवार को टिकट देकर मंडी लोकसभा चुनाव में भाजपा की राह आसान कर दी है। श्री शर्मा के इस्तीफे से भाजपा को लोकसभा चुनाव में नुकसान नहीं बल्कि फायदा ही होगा।
सं.रमेश2046वार्ता
More News
हरियाणा में गन्ना किसानों को 897.12 करोड़ रूपये का भुगतान: लाल

हरियाणा में गन्ना किसानों को 897.12 करोड़ रूपये का भुगतान: लाल

25 May 2020 | 2:31 PM

चंडीगढ़, 25 मई(वार्ता) हरियाणा के सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा है वर्तमान पिराई सीजन 2019-20 में राज्य की सभी दस सहकारी चीनी मिलों ने 21 मई, 2020 तक 1262.54 करोड़ रूपए की राशि खर्च कर 371.67 लाख क्विंटल गन्ने की खरीद की है तथा इसके एवज में गन्ना किसानों को 897.12 करोड़ रूपए का भुगतान कर दिया गया है।

see more..
image