Thursday, Sep 19 2019 | Time 21:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सऊदी अरब ने भारत को तेल आपूर्ति की प्रतिबद्धता निभाने का आश्वासन दिया
  • यूपी कबड्डी लीग: अंतिम चार के लिये 10 अक्टूबर से जोर आजमाइश
  • चार सौ जिलों में लगेंगे ऋण वितरण शिविर
  • राज्यपाल ने सुप्रियो को छात्रों के कब्जे से सुरक्षित निकाला
  • भुवनेश्वर स्टेशन बनेगा मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब
  • जल प्रबंधन बने जन आंदोलन : बिरला
  • प्राकृतिक आपदा से बरबाद हुई फसल के मुआवजे को लेकर छलका किसानों का दर्द
  • भाजपा सरकार ने मोटर वाहन अधिनियम को पैसा वसूली का जरिया बनाया : शैलजा
  • मध्यप्रदेश में मानसून सक्रिय, कई स्थानों पर बारिश
  • एसटीएफ ने इनामी हत्यारोपी को प्रयागराज से किया गिरफ्तार
  • झारखंड के बांस कारीगर जाएंगे वियतनाम और चीन : रघुवर
  • कोलकाता एवं जयपुर के बीच साप्ताहिक विशेष ट्रेन
  • नीतीश ने गंगा नदी के बढ़े जलस्तर का किया निरीक्षण, अधिकारियों को अलर्ट रहने का दिया निर्देश
  • एमएसएमई के फंसे हुए कर्ज को अगले वर्ष 31 मार्च तक एनपीए घोषित नहीं किया जायेगा: सीतारमण
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


कांग्रेसी राहुल के नाम पर वोट मांगने से हिचकिचा रहे : खट्टर

कांग्रेसी राहुल के नाम पर वोट मांगने से हिचकिचा रहे : खट्टर

अंबाला, 03 मई (वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने आज दावा किया कि लोकसभा चुनाव में प्रदेश के कांग्रेस नेता अपने अध्यक्ष राहुल गांधी के नाम पर वोट मांगने में हिचकिचा रहे हैं क्योंकि उनमें वह अपना विश्वास खो चुके हैं।

यहां चुनावी रैली को संबोधित करते हुए श्री खट्टर ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष के चुनावी सफलता के लिए बनाये कथित मास्टर प्लान से कांग्रेसी डर गये हैं और उन्हें अपनी हार स्पष्ट दिख रही है। उन्होंने दावा किया कि कश्मीर से कन्याकुमारी तक नरेंद्र मोदी की लहर है।

उन्होंने दावा किया कि अब तक हुए चरणों में मतदान भारतीय जनता पार्टी के पक्ष में हुआ है।

श्री खट्टर ने लोगों को चेताया कि उनके पास कई पार्टियों के प्रतिनिधि आएंगे और पिछले सात दशकों में किये काम का हवाला देकर वोट मांगेंगे पर उनके जाल में फंसें नहीं क्योंकि उनका प्रचार झूठ पर आधारित होगा। उन्होंने कहा कि दूसरी तरफ भाजपा की पिछले पांच सालों की उपलब्धियां सबके सामने हैं।

कांग्रेस के चुनावी घोषणापत्र में राजद्रोह और अफस्पां जैसे कानूनों को खत्म करने का जिक्र करते हुए श्री खट्टर ने कहा कि रक्षाकर्मियों का ऐसे प्रस्तावों से मनोबल प्रभावित होता है और ऐसे में कोई क्यों सीमाओं की रक्षा करेगा।

image