Thursday, Sep 19 2019 | Time 21:03 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सऊदी अरब ने भारत को तेल आपूर्ति की प्रतिबद्धता निभाने का आश्वासन दिया
  • यूपी कबड्डी लीग: अंतिम चार के लिये 10 अक्टूबर से जोर आजमाइश
  • चार सौ जिलों में लगेंगे ऋण वितरण शिविर
  • राज्यपाल ने सुप्रियो को छात्रों के कब्जे से सुरक्षित निकाला
  • भुवनेश्वर स्टेशन बनेगा मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट हब
  • जल प्रबंधन बने जन आंदोलन : बिरला
  • प्राकृतिक आपदा से बरबाद हुई फसल के मुआवजे को लेकर छलका किसानों का दर्द
  • भाजपा सरकार ने मोटर वाहन अधिनियम को पैसा वसूली का जरिया बनाया : शैलजा
  • मध्यप्रदेश में मानसून सक्रिय, कई स्थानों पर बारिश
  • एसटीएफ ने इनामी हत्यारोपी को प्रयागराज से किया गिरफ्तार
  • झारखंड के बांस कारीगर जाएंगे वियतनाम और चीन : रघुवर
  • कोलकाता एवं जयपुर के बीच साप्ताहिक विशेष ट्रेन
  • नीतीश ने गंगा नदी के बढ़े जलस्तर का किया निरीक्षण, अधिकारियों को अलर्ट रहने का दिया निर्देश
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


हरियाणा निर्वाचन आयोग की मतदाताओं के लिये ‘वोटर असिस्टेंट‘ ऐप

चंडीगढ़, 03 मई(वार्ता) हरियाणा के मुख्य निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन के आज कहा कि राज्य चुनाव आयोग ने मतदाताओं के लिये गूगल असिस्टेंट की तर्ज पर 'वोट एसिस्टेंट' ऐप लांच की है जिससे उन्हें मताधिकार से सम्बंधित सभी जानकारियां उपलब्ध होंगी।
श्री रंजन ने कहा कि राज्य की दस लोकसभा सीटों के लिये 12 मई को होने वाले लोकसभा चुनाव में मतदान के लिये अधिकाधिक मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए यह सुविधा शुरू की गई है। ऐप की सहायता से मतदाताओं को उनके मतदान केंद्र, मतदाता सूची में नाम, भाग नम्बर, मतदाता क्रमांक तथा उम्मीदवारों से सम्बंधित सभी जानकारी प्राप्त होगी। इसके अलावा इस ऐप पर मतदाताओं को मतदान केंद्र के स्थान, रास्ते की जानकारी और मतदान केंद्र पर लाइन की भीड़ के बारे में जानकारी भी मिलेगी जिससे मतदाता अपनी सुविधानुसार मतदान कर सकेंगे।
उन्होंने बताया कि मोबाइल ऐप की विशेषता यह है कि यह मतदाता को मतदान करने के लिए बार-बार याद दिलाएगी और मतदान के बाद यह रिमांईडर स्वत: ही बंद हो जाएगा। इस ऐप को कोई भी व्यक्ति एंड्रायड फोन पर गुगल प्ले स्टोर से डॉऊनलोड कर सकता हैं। इस पर उम्मीदवार के शपथपत्र सहित अन्य दस्तावेज भी उपलब्ध होंगे जिनमें उम्मीदवार के आपराधिक और अन्य रिकार्ड की जानकारी होगी। मतदाता इन दस्तावेजों का विश्लेषण कर किसे वोट देना है यह फैसला कर सकता है।
श्री रंजन ने मतदाताओं से अपील की कि वे 12 मई को सुबह सात बजे से सायं छह बजे तक अपने मताधिकार का अवश्य इस्तेमाल करें अन्यथा उन्हें यह अवसर पांच वर्ष बाद मिलेगा। उन्होंने कहा कि दुनिया में भारत सबसे बड़ा लोकतंत्र है इसलिए इसे मजबूत करने के लिए सभी को बढ़ चढ़ कर इसमें अपना योगदान करना चाहिये।
रमेश2031वार्ता
image