Monday, Aug 26 2019 | Time 07:58 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • इजराइल ने गाज़ा में किया जवाबी हवाई हमला
  • सऊदी ने यमन विद्रोहियों की ओर से दागे गए ड्रोन को नष्ट किया
  • सोलोमन द्वीप पर भूकंप के झटके
  • गाज़ा से इजराइल की ओर दागी गयी मिसाइल
  • बुमराह का कहर, भारत की विंडीज पर सबसे बड़ी जीत
  • स्विज़रलेंड में विमान दुर्घटना में तीन की मौत
  • सोनिया,ममता, प्रिंयका ने सिंधू को दी बधाई
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


पुक्का ने की तकनीकी पाठ्यक्रमों के छात्रों के प्रवेश की अंतिम तिथि बढ़ाने की मांग

अमृतसर 14 अगस्त (वार्ता) फेडरेशन ऑफ सेल्फ फाइनेंसिंग टेक्निकल इंस्टीट्यूशंस (एफएसएफटीआई) अौर पंजाब अनएडेड कॉलेज एसोसिएशन (पुक्का) ने केंद्र सरकार, मानव संसाधन विकास मंत्रालय नयी दिल्ली और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई), नयी दिल्ली से जम्मू-कश्मीर, बिहार और नेपाल के छात्रों के लिए तकनीकी पाठ्यक्रमों में प्रवेश की अंतिम तिथि 15 अगस्त से 15 सितंबर तक बढ़ाने की मांग की है।
फेडरेशन और पुक्का के अध्यक्ष डॉ. अंशु कटारिया ने कहा कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद इंटरनेट / मोबाइल कनेक्शन पर प्रतिबंध और कर्फ्यू के कारण घाटी के हजारों छात्र सकते में हैं। जिसके कारण इस सत्र में हजारों छात्र कॉलेजों में दाखिले के लिए अभी तक नहीं पहुंचे पाए हैं।
पुक्का के वरिष्ठ उपाध्यक्ष अमित शर्मा ने कहा कि पांच अगस्त को पटना उच्च न्यायालय ने बिहार सरकार की 05 जुलाई और 16 जुलाई की अधिसूचना पर रोक लगाई जिसमें केवल नेक ग्रेड ए ‘एनबीए’ मान्यता प्राप्त और एनआईआरएफ मान्यता प्राप्त संस्थानों को क्रेडिट कार्ड का लाभ देने की बात कही थी। जिसके कारण छात्रों में पूरे एक महीने तक प्रवेश को लेकर भ्रम की स्थिति बनी रही।
उल्लेखनीय है कि उच्चतम न्यायालय ने अपने पहले के आदेश में इंजीनियरिंग, फार्मेसी, पॉलिटेक्निक, मैनेजमेंट, होटल मैनेजमेंट आदि सहित तकनीकी पाठ्यक्रमों में छात्रों के प्रवेश की समय सीमा 15 अगस्त तय की थी।
ठाकुर, उप्रेती
वार्ता
image