Saturday, Jan 18 2020 | Time 09:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मैक्रों को सुरक्षा बलों ने थिएटर से सुरक्षित बाहर निकाला
  • न्यूजीलैंड के राउल द्वीप पर भूकंप के झटके
  • बुर्किना फासो में विस्फोट, पांच सैनिकों की मौत
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 19 जनवरी)
  • कोलंबिया में आतंकवादियों ने की पांच नागरिकों की हत्या
  • ‘चीन से अमेरिका आने वाले यात्रियों का होगा स्वास्थ्य परीक्षण’
  • लीबिया में संघर्ष के कारण 150,000 लोगों को छोड़ना पड़ा है घर: संरा
  • नागपुर में ट्रेन की चपेट में आने से तीन श्रमिकों की मौत
  • सीरिया में सुरक्षा बलों ने 50 आतंकवादियों को मार गिराया
  • नाइजीरिया में सशस्त्र धारियों के हमले में 14 लोग मारे गये
  • ई-गवर्नेंस को बढ़ावा देने के लिए चुनाव आयोग को मिला ‘अवार्ड ऑफ एक्सीलेंस’
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


एचवीपीएन का मुख्यमंत्री राहत कोष में पांच करोड़ का चैक

चंडीगढ़, 14 अगस्त(वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है प्राकृतिक आपदाओं के दौरान राहत कार्यों में सहयोग करने के लिए आगे आना सदैव भारतीय संस्कृति की परम्परा रही है ऐसे में सरकारी प्रयासों के साथ-साथ सरकार के अधीन बोर्डों और निगमों को भी अपने लाभांश से अधिकाधिक योगदान देना चाहिए ताकि आपदा प्रभावित लोगों की मदद की जा सके।
हरियाणा विद्युत प्रसारण निगम की ओर से प्रबंध निदेशक मोहम्मद शाईन तथा बिजली निगमों के चेयरमैन शत्रुजीत कपूर ने मुख्यमंत्री को पांच करोड़ रुपये का चैक मुख्यमंत्री राहत कोष में भेंट किया।
इसके अलावा, इस अवसर पर हरियाणा बिजली उत्पादन निगम की ओर से भी वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 37,58,79,800 करोड़ रुपये का चैक मुख्यमंत्री की उपिस्थित में वित्त विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव टी.वी.एस. एन प्रसाद को राज्य सरकार के इक्विटी निवेश के लिए दिया गया।
उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय ताप बिजली परियोजना के संयुक्त उद्यम वाली अरावली पॉवर कारपोरेशन प्राइवेट लिमिटेड ने झज्जर जिले में 500-500 मेगावॉट की इन्दिरा गांधी सुपर ताप परियोजना की तीन इकाईयां स्थापित की हैं जिसमें 50 प्रतिशत हिस्सा इस कारपोरेशन का है तथा 25-25 प्रतिशत इक्विटी हरियाणा सरकार और दिल्ली की इन्द्रप्रस्थ गैस कारापोरेशन लिमिटेड की है। वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान अरावली कम्पनी ने 10.24 प्रतिशत की दर से लाभांश घोषित किया है जिसमें हरियाणा बिजली उत्पादन निगम पहले भी वित्त वर्ष 2015-16 तथा वित्त वर्ष 2017-18 में राज्य सरकार को क्रमश: 63.41 करोड़ रुपये तथा 72.42 करोड़ रुपये दे चुका है।
रमेश2015वार्ता
More News
पंजाब विधानसभा में सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पारित

पंजाब विधानसभा में सीएए के खिलाफ प्रस्ताव पारित

17 Jan 2020 | 7:33 PM

चंडीगढ़ ,17 जनवरी (वार्ता) शिरोमणि अकाली दल -भाजपा गठबंधन के विरोध के बीच आज पंजाब विधानसभा में विवादित संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ सरकार की ओर से लाया गया प्रस्ताव पारित कर दिया गया ।

see more..
image