Monday, Oct 14 2019 | Time 06:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत में 12 तालिबानी मारे गये
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


केन्द्र तथा प्रदेश सरकारें पुलिस के हाथों को काूनन की सीमा में बांधें :प्रो0 चावला

केन्द्र तथा प्रदेश सरकारें पुलिस के हाथों को काूनन की सीमा में बांधें :प्रो0 चावला

चंडीगढ़ ,14 सितंबर (वार्ता)सामाजिक कार्यकर्ता एवं भारतीय जनता पार्टी की पूर्व उपाध्यक्ष प्रो0 लक्ष्मीकांता चावला ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह तथा देश की राज्य सरकारों से आग्रह किया है कि वे पुलिस के हाथों को कानून की सीमा में बांधें ।

उन्होंने आज यहां एक बयान में कहा कि नए ट्रैफिक नियमों को लागू करने वाली पुलिस मानवता भूल गई। अपनी ड्यूटी भूल गई और जिस ढंग से इन दिनों चालान करने के नाम पर लोगों को बर्बरता से पीटा जा रहा है उसका क्रूर उदाहरण कल यूपी के सिद्धार्थ नगर से पूरे देश ने देखा। उस व्यक्ति का विशेष धन्यवाद जिसने पुलिस की यह गैर इंसानी हरकत पूरे देश को दिखाई, पर अफसोस यह भी है कि सड़कों पर खड़े दूसरे लोग अपनी चमड़ी की चिंता में खड़े रहे। न केाई पिटते युवक को बचाने आया और न ही उसकी बेटी को संभालने।

प्राे0 चावला ने सरकार से सवाल किया कि क्या जो हेल्मेट नहीं पहनेगा उसे जान से मार दोगे? पुलिस वालों को वर्षों पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट के एक जज ने कहा था कि यह गुंडों का संगठित गिरोह है। अब तो सड़कों पर इनका असली रूप दिखाई देने लग गया। वैसे भी कहीं अस्सी हजार रुपये का चालान, कहीं एक लाख 41 हजार का चालान और कहीं दो लाख से ज्यादा का ट्रक वाले का चालान क्या हिंदुस्तान के आम आदमी में इतनी बड़ी जुर्माना राशि देने की हिम्मत है? अच्छा हो सरकार पुलिस वालों के साथ इनकम टैक्स वालों को भी सड़कों पर भेज दे कि जो बड़ा जुर्माना दे उसकी आमदनी का स्रोत भी पूछा जाए।

उन्होंने कहा कि जनता को यह अधिकार दिया जाए कि चालान करने वाली मशीनरी स्वयं कानून का पालन नहीं करती तो उसे सड़क पर रोक कर जनता पूछे और उनके चालान करे। यह ठीक है कि इससे अराजकता पैदा होगी, पर इस अराजकता की जिम्मेवार वे सरकारें होंगी जो कानून बनाते समय देश की असलियत को नहीं समझतीं।

उन्होंने उन सांसदों से सवाल किया जिन्होंने आंखें बंद करके केवल वफादारी निभाते हुए संसद में कोई भी किंतु परंतु किए बिना इसे पास कर दिया। अच्छा हो ये बड़े लोग छह महीने के लिए यह कानून केवल पुलिस, वीआईपी, सांसद और विधायकों तथा उनके परिवारों पर लागू करे। वैसे पहले पुलिस को ट्रेनिंग दी जाए कि जनता से कैसा व्यवहार करना है।

सरकारें साावधान रहें, जनता हमेशा के लिए तंत्र की गुलाम नहीं हो सकतीं, क्योंकि यहां लोकतंत्र है।

शर्मा

वार्ता

More News
अकाली दल एसवाईएल का पानी दे तो भाजपा प्रत्याशी हटाने का तैयार:मुख्यमंत्री

अकाली दल एसवाईएल का पानी दे तो भाजपा प्रत्याशी हटाने का तैयार:मुख्यमंत्री

13 Oct 2019 | 8:07 PM

सिरसा,13अक्तूबर(वार्ता) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि यदि शिरोमणि अकाली दल वाले हमें एसवाईएल का हरियाणा के हिस्से का पानी दे दें तो हम कालांवाली सीट को छोड़कर अपने दो उम्मीदवार चुनावी मैदान से हटाकर अकाली दल के उम्मीदवारों का समर्थन कर देंंगे।

see more..
भाजपा ने जारी किया म्हारे सपनों का हरियाणा नाम से संकल्प पत्र

भाजपा ने जारी किया म्हारे सपनों का हरियाणा नाम से संकल्प पत्र

13 Oct 2019 | 8:07 PM

चंडीगढ़ ,13 अक्तूबर (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी की हरियाणा इकाई ने आज रविवार को जारी संकल्प पत्र को किसान युवा ,खिलाड़ी आैर पंक्ति मेंं खड़े अंतिम व्यक्ति तक का ख्याल रखा है ।

see more..
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कल ऐलनाबाद मेंं

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह कल ऐलनाबाद मेंं

13 Oct 2019 | 8:07 PM

सिरसा,13अक्तूबर। केंद्रीय गृह मंत्री एवं भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह 14 अक्तूबर को ऐलनाबाद विधानसभा क्षेत्र के गांव मल्लेकां आएंगे।

see more..
image