Saturday, Feb 27 2021 | Time 14:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पीएसएलवी-सी51 अमेजोनिया मिशन के प्रक्षेपण की उल्टी गिनती शुरू
  • अजमेर में कोरोना टीकाकरण के तीसरे चरण की तैयारी पूरी
  • मिश्र एवं गहलोत ने संत रविदास एवं शहीद चंद्रशेखर आजाद को किया नमन
  • आईपीएल के लिए पांच शहरों का चुनाव, मुंबई अभी शामिल नहीं
  • आईपीएल के लिए पांच शहरों का चुनाव, मुंबई अभी शामिल नहीं
  • कौशल के कद्रदानों का कुम्भ साबित हो रहा हुनर हाट : नकवी
  • मोदी , सीतारमण ने येदियुरप्पा को जन्मदिन की दी बधाई
  • प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि भी चुनावी स्टंट साबित हुआ : दानिश
  • पश्चिम बंगाल में परिवर्तन का बिगुल बज चुका है - शिवराज
  • जार्जिया में सिंगल-ईंजन विमान के दुर्घटनाग्रस्त होने से तीन लोगों की मौत
  • लाठर ने अजमेर में किया आपणों बाजार का उद्घाटन
  • रेत के समन्दर में बही कबीर की अमृत वाणी
  • नायडू ने दी चंद्रशेखर आजाद को श्रद्धांजलि
  • मायावती ने रविदास जयंती पर उन्हें याद किया
  • तीन दिन से 16 हजार से अधिक नये मामले
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


रोजगार सृजन हेतु इपीएफओ की ‘आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना‘ शुरू

हिसार, पांच जनवरी (वार्ता) रोजगार का इंतजार कर रहे लोगों के लिए नया वर्ष नई आशा लेकर आया है। कर्मचारी भविष्य निधि कोष(ईपीएफओ) की ‘आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना‘ के अंतर्गत कर्मचारी और संस्थाओं के बिना पी.एफ. जमा किये ही नए कर्मचारियों के खाते में वेतन का 24 प्रतिशत, उनके पी.एफ. और पेंशन खाते में जमा हो जाएगा।
भविष्य निधि क्षेत्रीय आयुक्त परितोष कुमार ने आज यहां योजना की जानकारी देते हुए बताया कि केंद्र सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य कोरोनाकाल में रोजगार खो चुके कर्मचारियों और नए कर्मचारियों के लिए रोजगार के अधिकाधिक अवसर प्रदान करना है। अब योजना के दायरे में आने वाली किसी भी संस्था पर कर्मचारी के भविष्य निधि को जमा करने का बोझ नहीं रहेगा। साथ ही कर्मचारी भी अब पूरा वेतन अपने घर ले जा सकेंगे। इस बारे में हिसार, सिरसा एवं फतेहाबाद के प्रवर्तन अधिकारी अनुरंजन कपूर के अनुसार योजना के दायरे में आने के लिए ऐसी सभी संस्थाएं जहां कर्मचारियों की संख्या 50 या कम है तो कम से कम दो नए कर्मचारी और जहां 50 से अधिक है वहां पांच नए कर्मचारी लगाने होंगे ताकि संस्थाएं और कर्मचारी इस योजना का अधिकाधिक लाभ उठा सकें।
इस योजना के प्रचार-प्रसार के लिये क्षेत्रीय कार्यालय, रोहतक एवं जिला कार्यालय हिसार द्वारा अलग से ऑनलाइन वेबिनार एवं गोष्ठियों का भी आयोजन किया जा रहा है। भविष्य निधि नियमानुसार वेतन का 12 प्रतिशत संस्थाओं द्वारा तथा 12 प्रतिशत कर्मचारी के वेतन से काट कर जमा किया जाता है। अब योजना के दायरे में आने वाली सभी संस्थाएं अपने नए कर्मचारियों और ऐसे कर्मचारी जिन्होंने मार्च से सितम्बर के बीच अपना रोजगार खो दिया है उनका भविष्य निधि जमा नहीं करना पड़ेगा। योजना के दायरे में आने वाली ऐसी सभी संस्थाओं के नए कर्मचारियों को अक्टूबर 2020 से इस योजना का लाभ मिल सकेगा।
सं.रमेश1625वार्ता
More News
पंजाब में कोरोना से 16 की मौत

पंजाब में कोरोना से 16 की मौत

26 Feb 2021 | 8:18 PM

चंडीगढ़, 26 फरवरी (वार्ता) पंजाब में आज कोरोनावायरस संक्रमण से 16 लोगों की मौत हो गई जिससे महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 5814 हो गई है।

see more..
हरियाणा में कोरोना के 148 नये मामले

हरियाणा में कोरोना के 148 नये मामले

26 Feb 2021 | 8:13 PM

चंडीगढ़, 26 फरवरी (वार्ता) हरियाणा में आज कोरोना संक्रमण के 148 नये मामले सामने आये।

see more..
गेहूं, सरसों समेत छह फसलें हरियाणा सरकार खरीदेगी

गेहूं, सरसों समेत छह फसलें हरियाणा सरकार खरीदेगी

26 Feb 2021 | 7:36 PM

चंडीगढ़, 26 फरवरी (वार्ता) हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने आज घोषणा की कि हरियाणा सरकार रबी फसल की खरीद के लिए तैयार है और गेहूं, सरसों समेत छह फसलें न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) पर खरीदेगी।

see more..
image