Wednesday, Feb 24 2021 | Time 23:49 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में कोरोना के सक्रिय मामलों में फिर गिरावट
  • केरल में कोरोना सक्रिय मामले घटकर 52000 के करीब
  • महाराष्ट्र में सर्वाधिक 59000 से अधिक सक्रिय मामले
  • मुंबई ने ओडिशा को 6-1 से पीटा
  • मुंबई ने ओडिशा को 6-1 से पीटा
  • ममता ने कोरोना टीकाकरण पर मोदी को लिखा पत्र
  • ओडिशा में लापता युवती का शव नदी से बरामद
  • लोजपा कार्यकर्ताओं ने थामा जद-यू का दामन
  • उत्तराखंड में करंट लगने से महिला, घोड़े की मौत
  • अक्षर और अश्विन ने इंग्लैंड को 112 रन पर किया ढेर, भारत ने मैच पर कसा शिकंजा
  • अक्षर और अश्विन ने इंग्लैंड को 112 रन पर किया ढेर, भारत ने मैच पर कसा शिकंजा
  • मोटेरा स्टेडियम का नाम मोदी के नाम करना अधिनायकवाद मनोवृत्ति का परिचायक-डोटासरा
  • डिजिटल कंपनी के चयन में गड़बड़ी पर सरकार से जवाब तलब
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


हरियाणा. मोदी-कॉरिडोर तोहफा दो अंतिम चंडीगढ़

श्री मोदी ने कहा कि एक ओर जहां देश के नागरिकों को आवास, बिजली, गैस, शौचालय, इंटरनेट आदि सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं। वहीं दूसरी ओर उद्योगों को भी सुविधाएं दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि वैश्विक बाजार की मांग को ध्यान में रखते हुए देश में परिवहन के सभी माध्यमों जैसे सड़क, वायुमार्ग, रेलवे और जलमार्ग कनेक्टिविटी को और मजबूत किया जा रहा है। देश में गत छह वर्षों में रेलवे ट्रैक के चौड़ीकरण और विद्युतीकरण पर जितनी राशि खर्च की गई है, उतनी पहले कभी नहीं की गई।
इस अवसर पर श्री खट्टर ने प्रधानमंत्री को कॉरिडोर के 306 किलोमीटर लम्बे रेवाड़ी-मदार खंड राष्ट्र को समर्पित करने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था को गति देने वाले रेलवे के ड्रीम प्रोजेक्ट का एक चरण आज से शुरू हो गया है। इससे पहले, गत वर्ष के अंतिम सप्ताह में, प्रधानमंत्री ने ईस्टर्न डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर के भूपुर-खुर्जा खंड का शुभारंभ किया था। उन्होंने कहा कि जब यह कॉरिडोर उत्तर प्रदेश, राजस्थान, गुजरात और महाराष्ट्र से होते हुए मुम्बई तक जाएगा तो हरियाणा के औद्योगिक और कृषि उत्पादों की बंदरगाह तक सीधी पहुंच होगी। इस प्रकार, यह कॉरिडोर हरियाणा से निर्यात की नई क्षमताएं पैदा करेगा और राज्य के आर्थिक विकास में एक मील का पत्थर साबित होगा।

उन्होंने कहा कि इस कॉरिडोर से गुरुग्राम और फरीदाबाद के ऑटो-मोबाइल, आईटी, टेक्सटाइल, इंजीनियरिंग, इलेक्ट्रॉनिक्स, केमिकल और फार्मास्युटिकल उद्योगों को फायदा होगा। इसी प्रकार, इससे झज्जर के फुटवियर और सीमेंट उद्योग, सोनीपत के ऑटो मोबाइल पार्ट्स, पानीपत के उद्योग, यमुनानगर के प्लाईवुड, अम्बाला के वैज्ञानिक उपकरण, सिरसा के एग्रो एवं खाद्य, करनाल के धान उत्पादक और फुटवियर तथा कृषि उपकरण उद्योगों के लिए भी निर्यात के नए रास्ते खुलेंगे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गत छह वर्षों के दौरान प्रधानमंत्री ने हरियाणा के लोगों को कई सौगात दी हैं। इनमें रेल कोच रिपेयर फैक्ट्री, कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेस-वे, कुंडली-गाजियाबाद-पलवल एक्सप्रेस-वे, बल्लभगढ़-मुजेसर, मुंडका-बहादुरगढ़, गुरूग्राम-सिकंदरपुर, फरीदाबाद-बल्लभगढ़ मैट्रो लिंक, रोहतक में देश का पहला एलिवेटिड रेलवे ट्रैक और रोहतक-महम-हांसी रेलवे लाईन आदि शामिल हैं। उन्होंने ‘हरियाणा ऑर्बिटल रेल कॉरिडोर’ को मंजूरी प्रदान करने के लिए भी प्रधानमंत्री का आभार प्रकट किया। यह परियोजना पूरे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र(एनसीआर) को डेडिकेटिड फ्रेट कॉरीडोर से जोड़ती है। यह एनसीआर के आर्थिक केंद्रों को देश के पश्चिमी और पूर्वी बंदरगाहों से उच्च गति और उच्च क्षमता वाली सहज कनेक्टिविटी प्रदान करेगी तथा यात्रा के समय और लागत कम कर निर्यात को प्रोत्साहन देगी। उन्होंने कहा कि पलवल से सोनीपत तक की इस परियोजना को हरियाणा सरकार और रेल मंत्रालय की संयुक्त भागीदारी से बनाया जा रहा है जिसकी अनुमानित लागत 5618 करोड़ रुपये तथा इसके 2025 तक बनकर तैयार हो की उम्मीद है।
श्री खट्टर ने कहा कि हरियाणा सरकार द्वारा रेल मंत्रालय के साथ मिलकर राज्य में रेल अवसरंचना और रेल सम्पर्क को बढ़ाने के लिए एक संयुक्त उद्यम कम्पनी हरियाणा रेल अवसंरचना विकास निगम लिमिटेड (एचआरआईडीसी) की स्थापना की गई है। यह कम्पनी हरियाणा ऑॅर्बिटल रेल कॉरिडोर के अलावा अन्य कई रेल परियोजनाओं पर काम कर रही है। इनमें कुरुक्षेत्र-नरवाना रेलवे लाइन पर ऐलिवेटिड ट्रैक, करनाल-यमुनानगर नई रेलवे लाइन, कैथल में एलिवेटिड रेलवे लाइन और जींद-हांसी नई रेलवे लाइन आदि शामिल हैं।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी और रेल मंत्री श्री पियूष गोयल का रोहतक में 315 करोड़ रुपये की लागत से और कुरूक्षेत्र में 225 करोड़ रुपये की लागत से ऐलीवेटिड रेलवे ट्रैक स्वीकृत करने के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा कि रोहतक की परियोजना इसी माह में पूर्ण हो जाएगी तथा कुरूक्षेत्र की परियोजना पर काम शुरू हो जाएगा।
इससे पूर्व, अपने स्वागत भाषण में रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि श्री मोदी के नेतृत्व में रेलवे ने देश में जबरदस्त प्रगति की है। उन्होंने कहा कि डब्ल्यूडीएफसी के 306 किलोमीटर लंबे रेवाड़ी से मदार खंड का उद्घाटन और न्यू अटेली स्टेशन (हरियाणा) और न्यू किशनगढ़ स्टेशन (राजस्थान) से डबल-स्टैक 1.5 किलोमीटर लंबी कंटेनर ट्रेन को रवाना करना रेलवे के लिए और देश की विकास की कहानी में मील का पत्थर साबित होगा।
चंडीगढ़ में इस अवसर पर मुख्य सचिव विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डी.एस. ढेसी, लोक निर्माण (भवन एवं सड़कें) विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव आलोक निगम, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव अमित कुमार अग्रवाल और मुख्यमंत्री की उप प्रधान सचिव आशिमा बराड़ उपस्थित थे।
रमेश2015वार्ता
More News
ग्रामीण युवकों के लिए मिनी बस परमिट नीति का ऐलान

ग्रामीण युवकों के लिए मिनी बस परमिट नीति का ऐलान

24 Feb 2021 | 7:49 PM

चंडीगढ़, 24 फरवरी (वार्ता)पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने समय सीमा रहित मिनी बस परमिट पॉलिसी का ऐलान किया है ।

see more..
पंजाब की जेलों में सुरक्षा मज़बूत करने तथा अपराध पर काबू पाने के लिए प्रिज़न एक्ट में संशोधन

पंजाब की जेलों में सुरक्षा मज़बूत करने तथा अपराध पर काबू पाने के लिए प्रिज़न एक्ट में संशोधन

24 Feb 2021 | 7:25 PM

चंडीगढ़, 24 फरवरी (वार्ता) पंजाब मंत्रिमंडल ने जेल एक्ट 1894 में संशोधन करने को मंजूरी दी है ताकि जेलों में कैदियों द्वारा अंजाम दिए जाने दंगा-फ़साद, जेल से भागना और जेल अनुशासन और नियमों का उल्लंघन जैसे अपराधों के लिए सख़्त सज़ा दी जा सके और जेलों की सुरक्षा मज़बूत की जा सके।

see more..
image