Monday, Nov 29 2021 | Time 02:10 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


बिजली क्षेत्र में मौजूदा संकट के मुद्दे पर भी दोहरे मापदंड अपना रहे केजरीवाल:बादल

होशियारपुर, 12 अक्टूबर (वार्ता) शिरोमणि अकाली दल बादल के अध्यक्ष सुखवीर सिंह बादल ने मंगलवार को कहा कि यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिजली क्षेत्र में मौजूदा संकट के मुददे पर भी दोहरे मापदंड अपनाए हुए हैं।
श्री बादल ने कहा कि एक तरफ श्री केजरीवाल ने घोषणा की थी कि दिल्ली एकमात्र ऐसा राज्य बन गया है जो बिजली पैदा करने के लिए कोयले का इस्तेमाल नहीं कर रहा। श्री केजरीवाल ने हालांकि हाल ही में प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि दिल्ली को बिजली की आपूर्ति करने वाले दो थर्मल संयंत्रों को इसकी आपूर्ति की जाए। उन्होंने कहा कि पहले भी श्री केजरीवाल ने सतलुज यमुना लिंक नहर तथा पराली जलाने के मुददे पर पंजाब विरोधी रुख अपनाया था। दिल्ली सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के हलफनामा देकर पंजाब के चार पावर प्वाइंटस बंद करने की मांग की थी।
राज्य में बिजली संकट के बारे में पूछे जाने पर श्री बादल ने कहा कि यह कांग्रेस सरकार द्वारा बिजली क्षेत्र के कुप्रबंधन का प्रत्यक्ष परिणाम है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सालाना बढ़ोतरी को ध्यान में रखते हुए पिछले पांच सालों में 700 मेगावाट की बहुत जरूरी बिजली आपूर्ति बढ़ाने में विफल रही है। बादल ने कहा कि अकाली दल के नेतृत्व वाली सरकार ने 2.85 रूपये प्रति यूनिट के हिसाब से किए बिजली समझौते (पीपीए) के बारे में बहुत कुछ कहा गया है। कल ही कांग्रेस सरकार ने 14.46 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिजली खरीदी है।
शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष ने आज घोषणा की है कि एक बार शिअद-बसपा गठबंधन की सरकार बनने पर कंडी क्षेत्र डेवलपमेंट के लिए अलग मंत्रालय बनाया जाएगा। उन्होंने यह घोषणा दसूहा, उड़मूड़ टांडा तथा होशियारपुर हलकों की यात्रा के दौरान की, जिसके कारण अकाली दल के पूर्व मंत्री बलबीर सिंह मिआनी अपने समर्थकों के साथ पार्टी में शामिल हो गए। उन्होंने शिअद-बसपा होशियारपुर के एनजीओ फार होमलेस तथा सोशल वर्कर वरिंदर परिहार द्वारा बनाए गए एक घर का भी उदघाटन किया। उन्होने लोगों को आश्वासन दिया कि अगली शिअद-बसपा गठबंधन सरकार बेघरों के लिए पांच -पांच लाख घर बनाकर दिए जाएंगे।
श्री बादल ने कंडी क्षेत्र के विकास के लिए अलग मंत्रालय बनाने का आश्वासन देते हुए कहा कि इस क्षेत्र को कांग्रेस सरकार ने नजरअंदाज किया है। पेयजल और सिंचाई प्रोजेक्ट को बढ़ाने का कोई प्रयास नही किया गया है। यहां तक कि बुनियादी सुविधाएं भी नही दी गई है। उन्होंने कहा कि कंडी क्षेत्र के लिए एक अलग मंत्रालय पूरे उप-पर्वतीय क्षेत्र का केंद्रित विकास सुनिश्चित करेगा।
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बारे में बोलते हुए अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि वे पहले मंत्रिमंडल का हिस्सा थे, जिसने योग्य छात्रों को एस.सी छात्रवृत्ति से वंचित कर दिया था। उन्होंने कहा कि इसी तरह चन्नी गरीबों को सब्सिडी वाले राशन की सुविधाओं से इंकार कर लाखों नीले कार्ड रदद करने का फैसला करने वाली पार्टी है।
ठाकुर.श्रवण
वार्ता
More News
विश्वविद्यालयों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पूर्व छात्र आगे आएं : बंडारू दत्तात्रेय

विश्वविद्यालयों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए पूर्व छात्र आगे आएं : बंडारू दत्तात्रेय

28 Nov 2021 | 7:44 PM

सिरसा, 28 नवंबर (वार्ता) हरियाणा के राज्यपाल तथा चौधरी देवीलाल विश्वविद्यालय सिरसा के कुलाधिपति बंडारू दत्तात्रेय ने आज प्रदेश के विश्वविद्यालयों को आत्मनिर्भर बनाने में पूर्व छात्रों से योगदान देने के लिए आगे आने का आह्वान किया।

see more..

---

28 Nov 2021 | 7:26 PM

see more..
प्रिंसिपल ने स्कूल में बच्चों के बाल कटवाए, परिजनों ने जताया विरोध

प्रिंसिपल ने स्कूल में बच्चों के बाल कटवाए, परिजनों ने जताया विरोध

28 Nov 2021 | 6:37 PM

बठिंडा, 28 नवंबर (वार्ता) पंजाब के बठिंडा में एक सरकारी उच्च माध्यमिक स्कूल की प्रिंसीपल ने करीब 50 बच्चाें के बाल कटवा दिये, जिसे लेकर परिजनों ने विरोध जताया।

see more..
image