Tuesday, Jun 18 2024 | Time 21:59 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


पंजाबी में तकनीकी शिक्षा व राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर एक गोष्ठी होगा आयोजित

अमृतसर 07 मार्च (वार्ता) गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी की इलेक्ट्रॉनिक्स टेक्नोलॉजी और सरकार के तकनीकी शब्दावली आयोग (सीएसटीटी) के सहयोग से जी-20 प्रोग्राम के तहत 10-11 मार्च को ‘पंजाबी में तकनीकी शिक्षा और तकनीकी शब्दावली में भारत सरकार के शिक्षा विभाग द्वारा ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के कार्यान्वयन ’ पर दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है।
संगोष्ठी के संयोजक एवं विभागाध्यक्ष डॉ. रविंदर कुमार ने मंगलवार को कहा कि यह हम सभी के लिए बहुत गर्व की बात है कि सीएसटीटी, शिक्षा विभाग; भारत सरकार ने इस दो दिवसीय राष्ट्रीय स्तर के कार्यक्रम को आयोजित करने के लिए उत्तरी क्षेत्र में गुरु नानक देव विश्वविद्यालय का चयन किया है। उन्होने कहा कि आयोग वैज्ञानिक और तकनीकी शब्दों के लिए क्षेत्रीय भाषाओं में विभिन्न परिभाषाएँ तैयार करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। विश्वविद्यालय के विशेषज्ञों ने सीएसटीटी के लिए पंजाबी भाषा में एक व्यापक तकनीकी शब्दावली बनाने के लिए पहले ही एक परियोजना पूरी कर ली है। उन्होंने कहा कि इस दो दिवसीय सेमिनार में भारत के विभिन्न तकनीकी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के 100 से अधिक प्रतिनिधियों के अलावा प्रतिष्ठित संस्थानों के विद्वान भाग लेंगे। विश्वविद्यालय के श्री गुरु ग्रंथ साहिब भवन के सभागार में आयोजित होने वाले इस संगोष्ठी के उद्घाटन समारोह की अध्यक्षता कुलपति प्रो. जसपाल सिंह संधू और सीएसटीटी अध्यक्ष प्रो. गिरीशनाथ झा करेंगे।
प्रो अभियांत्रिकी एवं प्रौद्योगिकी संकाय के डीन एवं संयोजक रविंदर सिंह साहनी ने कहा कि जैसा कि हम सभी जानते हैं कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति (एनईपी) 2020 राष्ट्र निर्माण के संदर्भ में एक ऐतिहासिक दस्तावेज है और इस संगोष्ठी का उद्देश्य राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 के बारे में जागरूकता पैदा करने के बारे में भी चर्चा करना है।
ठाकुर.संजय
वार्ता
image