Friday, Jun 14 2024 | Time 12:17 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


कांग्रेस, अकाली व भाजपा ने पंजाब के कर्ज लेकर लोगों को गुमराह किया:कंग

चंडीगढ़ 13 मार्च (वार्ता) आम आदमी पार्टी (आप) ने पंजाब के कर्ज और वित्तीय स्थिति को लेकर गुमराह करने के लिए विपक्षी नेताओं पर निशाना साधा है। पार्टी ने कांग्रेस व शिरोमणि अकाली दल (शिअद)-भाजपा पर अपने शासन के दौरान राज्य को दिवालिया होने की कगार पर धकेलने का आरोप लगाते हुए कहा कि पंजाब भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार अब राज्य की अर्थव्यवस्था को पटरी पर ला रही है।
सोमवार को पार्टी मुख्यालय में एक पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मुख्य प्रवक्ता मलविंदर सिंह कंग ने कहा कि पंजाब सरकार का बजट आम आदमी की आवाज का चित्रण है, जबकि पिछली सरकारों के बजट से सिर्फ अमीरों और उनके कारपोरेट मित्रों को फायदा हुआ। उन्होंने कहा कि मान सरकार ने 36,046 करोड़ रुपये का कर्ज चुकाया है, जिसमे 15,946 करोड़ रुपए का मूल और 20,100 करोड़ का ब्याज भुगतान शामिल है। साथ ही पंजाब के लोगों को कल्याणकारी योजना का लाभ देने के लिए भी बड़ी राशि खर्च की है। इसके अलावा मान सरकार ने पिछले एक साल में कंसोलिडेटेड फंड में 3000 करोड़ रुपये जमा कराये हैं, जबकि कांग्रेस सरकार द्वारा पांच साल में इस कोष में केवल 2900 करोड़ रुपये ही जमा कराये गये थे। यह दर्शाता है कि आप सरकार केवल राज्य के उत्थान और लोगों के कल्याण पर पैसा खर्च कर रही है।
श्री कंग ने कहा कि पिछले शासन के दौरान अनुदान की अनुपस्थिति के कारण पीआरटीसी सहित सरकारी विभागों को जर्जर स्थिति में छोड़ दिया गया था। पंजाब सहकारी कृषि विकास बैंक को 885 करोड़ रुपये, 300 करोड़ रुपये सहित विभिन्न सरकारी एजेंसियों को राहत देने के लिए 2000 करोड़ रुपये की सहायता प्रदान की गई। पंसप को 400 करोड़ रुपये, शुगरफेड को 400 करोड़ रुपये, जिला सहकारी बैंकों को 135 करोड़ रुपये, मिल्कफेड को 36 करोड़ रुपये और फाजिल्का चीनी मिल को 10 करोड़ रुपये प्रदान किये गए। सरकार द्वारा संचालित परिवहन भी लाभ में है।
श्री कंग ने कहा कि 'आप' किसान और आम लोगों की पार्टी है। साथ ही सरकार ने कर्मचारियों के हितों का भी पूरा ध्यान रखा है। पंजाब सरकार ने कर्मचारियों को 6 प्रतिशत मंहगाई भत्ते की किस्त अदा करने के अलावा 1150 करोड़ रुपये का बकाया भी अदा किया है जो वेतन आयोग 2016 से लंबित है। उन्होंने जोर देकर कहा कि अगर पिछली सरकारों ने समय पर भुगतान किया होता तो बोझ इतना नहीं बढ़ता।
पिछले एक साल में आम लोगों के कल्याण पर खर्च किए गए धन पर प्रकाश डालते हुए कंग ने कहा कि राज्य सरकार ने अब तक 500 से अधिक आम आदमी क्लीनिक स्थापित किए हैं। इसके अलावा 600 यूनिट बिजली मुफ्त में प्रदान की जा रही है, जिससे पंजाब के 90 प्रतिशत घरों को जीरो बिजली बिल मिल रहे हैं। इसी तरह, 117 स्कूल ऑफ एमिनेंस की स्थापना और एक साल के भीतर 26,000 से अधिक सरकारी नौकरियां देने के लिए केवल धन की आवश्यकता नहीं, बल्कि विकास के लिए नेक इरादे की भी ज़रूरत है, जो केवल आप के पास है।
ठाकुर.संजय
वार्ता
image