Wednesday, Apr 24 2024 | Time 00:14 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


पंजाब के अस्पतालों में जल्द होगी विशेषज्ञ डाक्टरों की भर्ती: डाॅ बलबीर सिंह

जालंधर, 17 मार्च (वार्ता) पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री डॉ बलबीर सिंह ने शुक्रवार को कहा कि राज्य के सभी सरकारी अस्पतालों में विशेषज्ञ डॉक्टरों की भर्ती की जा रही है ताकि लोगों की सुविधा के लिए आसपास के अस्पतालों में गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध हो सकें।
डॉ सिंह ने स्वास्थ्य, शिक्षा और रोजगार को मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार की प्राथमिकता निरूपित करते हुए कहा कि लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सेवाएं देने के उद्देश्य से आम आदमी क्लीनिक शुरू किए गए हैं, जिसका लोगों को लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि 504 आम आदमी क्लीनिकों की स्थापना और सफल प्रदर्शन के कारण राज्य सरकार द्वारा 142 और क्लीनिकों की तैयारी की जा रही है। उन्होंने कहा कि वेलनेस सेंटर भी पहले की तरह काम कर रहे हैं और आम आदमी क्लीनिक से लोगों को स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में बड़ी सुविधा मिली है, जहां 80 तरह की दवाएं और 41 तरह की जांचें मुफ्त की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इन क्लीनिकों में अब तक एक लाख से अधिक जांच हो चुकी है और ओपीडी में 10.50 लाख से अधिक लोगो ने सेवाओं का लाभ उठाया है।
डॉ सिंह ने मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व में पंजाब सरकार के कार्यकाल के पहले साल को उपलब्धियों भरा साल बताया और कहा कि सरकारी अस्पतालों में जल्द ही डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ और सहयोगी स्टाफ की कमी को पूरा किया जाएगा। स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में विश्व स्तरीय अधोसंरचना की स्थापना की जा रही है। उन्होंने कहा कि पंजाब सरकार निकट भविष्य में एक जिला रेजिडेंसी कार्यक्रम शुरू करेगी, जिसमें मेडिकल कॉलेजों के विशेषज्ञों और निजी अस्पतालों के विशेषज्ञ डॉक्टरों के सहयोग से लोगों को बेहतरीन इलाज मुहैया कराया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि अगले चरण में होशियारपुर और कपूरथला के अलावा मलेरकोटला और संगरूर में भी मेडिकल कॉलेज खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि गुरु रविदास आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी होशियारपुर में आयुर्वेद और प्राकृतिक चिकित्सा को बढ़ावा देने के लिए पंजाब सरकार द्वारा ठोस प्रयास किए जा रहे हैं और पटियाला में आयुर्वेदिक कॉलेज को फिर से शुरू किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पंजाब में जल्द ही अलग-अलग जगहों पर योगशालाएं शुरू की जायेंगी।
पंजाब सरकार द्वारा शुरू की जा रही फरिश्ते योजना के बारे में स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि यह पहल सड़क हादसों और आपात स्थिति के दौरान लोगों के लिए काफी मददगार साबित होगी। उन्होंने कहा कि दुर्घटना पीड़ितों को अस्पताल ले जाने वालों को पंजाब सरकार 2000 रुपये मानदेय के तौर पर देगी और इन पीड़ितों का अस्पतालों में मुफ्त इलाज होगा, जिसका खर्च पंजाब सरकार वहन करेगी। उन्होंने बड़े और छोटे वाहनों के चालकों से अपील की कि वे अपने वाहनों में प्राथमिक चिकित्सा किट जरूर रखें ताकि जरूरत पड़ने पर किसी भी व्यक्ति की मदद की जा सके।
एंबुलेंस सेवाओं में बड़े सुधारों की बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जल्द ही 108 एंबुलेंस सेवा और सरकारी एंबुलेंसों को समय के अनुसार आधुनिक बनाया जाएगा और इन सेवाओं में आवश्यक बदलाव करने के साथ ही पंजाब सरकार द्वारा हाईवे पेट्रोलिंग वाहन शुरू किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इन वाहनों को पंजाब पुलिस के विशेषज्ञ अमले द्वारा चलाया जाएगा और दुर्घटना पीड़ितों को आवश्यक चिकित्सा सहायता प्रदान करके अस्पतालों में ले जाया जाएगा।
इस मौके पर विधायक रमन अरोड़ा, विधायक बलकार सिंह, पंजाब कृषि निर्यात निगम के अध्यक्ष मंगल सिंह, पंजाब स्टेट कंटेनर एंड वेयरहाउसिंग कॉरपोरेशन की अध्यक्ष राजविंदर कौर थियारा, जिला योजना कमेटी के चेयरमैन अमृतपाल सिंह और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौजूद थे।
ठाकुर.श्रवण
वार्ता
image