Tuesday, Jun 18 2024 | Time 20:32 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


रेलवे एसपी संगीता कालिया समेत छह पुलिस अधिकारियों पर मामला

हिसार, 20 मार्च (वार्ता) हरियाणा के हिसार में रेलवे के सेवानिवृत्त निरीक्षक रघुबीर सिंह आत्महत्या मामले में रेलवे की अम्बाला पुलिस अधीक्षक संगीता कालिया सहित छह पुलिस अधिकारियों पर मामला दर्ज किया गया है।
रघुबीर सिंह ने गत शुक्रवार सुबह रेलगाड़ी के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली थी। परिजनों के रेलवे पुलिस के आला अधिकारियों पर हत्या का मामला दर्ज करने की मांग के कारण अभी तक उसके शव का दाह संस्कार नहीं किया था। ग्रामीणों ने आज राष्ट्रीय राजमार्ग हिसार-चंडीगढ़ पर एक घंटा जाम लगा दिया। पुलिस अधिकारियों पर मामला दर्ज होने के बाद परिजनों ने मृतक का आज अंतिम संस्कार गांव में कर दिया।
रेलवे पुलिस ने मृतक रघुबीर सिंह के रिश्तेदार रिसाल सिंह के बयान पर संगीता कालिया, पुलिस उपाधीक्षक गुरदयाल सिंह, उपनिरीक्षक कश्मीर सिंह, ईएसआई महेंद्र सिंह, हेड कांस्टेबल सुरेंद्र कुमार के खिलाफ मामला दर्ज किया है। रिसाल सिंह ने बताया कि रघुबीर सिंह हरियाणा रेलवे पुलिस से रिटायर्ड कर्मचारी थे। रघुबीर सिंह उसे बताते थे कि हेड कांस्टेबल सुरेंद्र उससे रजिंश रखते थे, जिसके कारण पुलिस कर्मचारी सुरेंद्र और महेंद्र ने थाना प्रभारी नरेश से एक झूठी रिपोर्ट तैयार कर और डीएसपी जीआरपी हिसार के माध्यम से फारवर्ड करा कर 14 जुलाई 2022 को रीडर बुधदेव को दी जिस पर रघुबीर सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया।
शिकायत के अनुसार रघुबीर सिंह की रिटायर्टमेंट के नजदीक होने के बावजूद उन्हें परेशान करने के लिए उनका तबादला चंडीगढ़ करा दिया गया। इसके बाद फिर से वह हिसार आ गये, लेकिन आरोपी पुलिस अधिकारियों से परेशान होकर रघुबीर ने 142 दिन का अवकाश भी ले लिया। शिकायतकर्ता के अनुसार एक गुमनाम दरखास्त मुख्यमंत्री हरियाणा, गृह मंत्री और उप-महानिरीक्षक रेलवे को दी गई, जिसके आधार पर भांजे दिनेश और रघुबीर सिंह के खिलाफ अम्बाला रेलवे थाने में रंजिशन अनुसूचित जाति अधिनियम के तहत झूठा मुकदमा दर्ज किया गया। इस तरह प्रताड़ित किये जाने पर रघुबीर ने गत शुक्रवार को सुबह करीब आठ बजे हिसार बरवाला रेलवे लाइन पर जाकर रेलगाड़ी के आगे कूद का आत्महत्या कर ली।
रघुबीर ने अपने सुसाइड नोट में लिखा है कि उसके विभाग के दो कर्मचारियों ने उसके गांव के सुखबीर और मांगीलाल से रिश्वत ली थी जो उसने वापस दोनों को दिला दिए। इसी बात पर विभाग के दोनों कर्मचारी उससे रंजिश रखते थे और यहीं से उसकी प्रताड़ना का सिलसिला शुरू हुआ।
सं.रमेश.श्रवण
वार्ता
image