Sunday, Feb 25 2024 | Time 01:48 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


महिलाओं के नेतृत्व वाले 8.59 लाख एमएसएमई उद्यम पोर्टल पर पंजीकृत हुए:सोम प्रकाश

चंडीगढ़, 21 मार्च (वार्ता) केन्द्रीय वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सोम प्रकाश ने मंगलवार को कहा कि देश में 7.9 लाख पंजीकृत सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) आधार हैं।
उन्होंने कहा कि एमएसएमई उद्योग खंड देश के सकल घरेलू उत्पाद में 33 प्रतिशत का योगदान देता है और देश के उद्योगों और क्षेत्रों में 120 लाख से अधिक नौकरियां उत्पन्न करता है, जो जमीनी स्तर पर धन सृजन में योगदान देता है।
श्री सोम प्रकाश ने सीआईआई की वार्षिक बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि अकेले वित्तीय वर्ष 2022 में, 8.59 लाख महिलाओं के नेतृत्व वाले एमएसएमई उद्यम पोर्टल पर पंजीकृत हुए, जो कुल एमएसएमई पंजीकरण का 17 प्रतिशत है। उन्होंने कहा कि कम से कम 63.4 मिलियन इकाइयां विनिर्माण जीडीपी में 6.11 प्रतिशत और सेवा जीडीपी में 24.63 प्रतिशत का योगदान करती हैं।
पंजाब ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टमेंट प्रमोशन और एक्साइज एंड टैक्सेशन आयुक्त कमल किशोर यादव ने राज्य सरकार की पहल की चर्चा करते हुए कहा कि उद्योग विभाग हमारे एमएसएमई को अधिक वैश्विक, प्रतिस्पर्धी और वित्तीय रूप से स्थिर बनाने के प्रयास कर रहा है ताकि कि हमारा एमएसएमई क्षेत्र हमारी अर्थव्यवस्था में और अधिक योगदान दे सकता है। उन्होंने उल्लेख किया कि पिछले एक वर्ष में कुल निवेश लगभग 40,000 करोड़ रुपये नए निवेश के रूप में था, जिसमें से लगभग 60 प्रतिशत एमएसएमई क्षेत्र से है।
निवेश प्रोत्साहन,उद्योग और वाणिज्य के प्रधान सचिव दिलीप कुमार ने कहा, “हम एक सर्कुलर अर्थव्यवस्था में हैं, चीजें आगे बढ़ रही हैं। इसलिए, हमें सोचने की जरूरत है और इसी तरह हम बढ़ेंगे। ऐसी कई नीतियां और प्रोत्साहन हैं जिनका लाभ उठाने की आवश्यकता है।”
चंडीगढ़ में 2022-2023 के अपने वार्षिक सत्र में, सीआईआई पंजाब ने टाइनोर ऑर्थोटिक्स लिमिटेड के सीएमडी डॉ पी जे सिंह को अपना नवनिर्वाचित अध्यक्ष और अभिषेक गुप्ता, चीफ–स्ट्रेटेजिक मार्केटिंग, ट्राइडेंट लिमिटेड को अपना उपाध्यक्ष घोषित किया।
पंजाब के एमएसएमई क्षेत्र को मजबूत करने पर ध्यान केंद्रित करते हुए डॉ पी जे सिंह ने आने वाले वर्ष के लिए अपने फोकस क्षेत्रों पर जोर दिया। उन्होंने साझा किया कि वह उद्योग के मुद्दों को हल करने में मदद करेंगे और देश में पंजाब के आर्थिक योगदान को मजबूत करने के लिए राज्य में निजी इक्विटी और विकास पूंजी की सुविधा प्रदान करेंगे।
श्री अभिषेक गुप्ता ने कहा कि पंजाब के युवाओं में बहुत कौशल है और अब समय आ गया है कि वे उद्यमियों और नव प्रवर्तकों के लिए इस यात्रा को गति देने और भविष्य का पता लगाने के लिए मोर्चा संभालें।
ठाकुर.श्रवण
वार्ता
image