Wednesday, May 22 2024 | Time 04:30 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


चौक -चौराहों व गलियों में पैदल गश्त कर पुलिस ने दर्ज कराई उपस्थिति

सिरसा 24 मार्च (वार्ता) ‘पुलिस प्रजेंस-डे’ पर हरियाणा में जिला सिरसा पुलिस द्वारा अपराध तथा अपराधियों के खिलाफ शिकंजा कसने और आम लोगों में पुलिस के प्रति ओर अधिक विश्वास पैदा करने के उद्देश्य से गलियों, चौक-चौराहों व सार्वजनिक स्थानों पर पैदल गस्त कर विशेष अभियान चलाया गया। इस दौरान विभिन्न स्थलों पर वाहनों की जांच भी की गई।
पुलिस अधीक्षक डॉ अर्पित जैन ने बताया कि इस अभियान का उद्देश्य आमजन में पुलिस की मौजूदगी दर्ज कराना है, ताकि आमजन अपने आपको सुरक्षित महसूस करें तथा गैरकानूनी धंधा करने वालों तथा अपराधिक किस्म के लोगों में कानून का भय नजर आए । उन्होंने बताया कि इस अभियान में जिला पुलिस के करीब 850 अधिकारियों और कर्मचारियों ने भाग लिया और जिले के ग्रामीण तथा शहरी इलाके के सभी चौक-चौराहों व सार्वजनिक स्थलों पर पुलिस टीम पूरी तरह मुस्तैद नजर आई। पुलिस अधीक्षक ने जिले के सभी पुलिस अधिकारियों तथा कर्मचारियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि पुलिस का काम केवल अपराधों पर रोक लगाना नहीं बल्कि जनता के साथ मधुर सम्बंध रखते हुए उन्हें नशे जैसी सामाजिक बुराइयों के खिलाफ जागरूक करना भी है । उन्होंने कहा कि लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास बढ़े और वे खुद को सुरक्षित समझे, इसको लेकर सभी पुलिस कमज़्चारी ईमानदारी से अपनी ड्यूटी का निर्वाह करें।
उन्होंने कहा कि पुलिस अधिकारी व कर्मचारी लोगों को डायल 112 , ट्रैफिक नियमों व साइबर अपराधों के बारे लोगों को जागरूक करें तथा साइबर ठगी से बचाव के तरीकों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दें। इसके अलावा जिला भर में नशे के खिलाफ जिला पुलिस द्वारा शुरू की गई मुहिम ‘ऑपरेशन क्लीन’ में बढ़ चढ़कर भाग लेने का भी आह्वान करें। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पुलिस महानिदेशक के निर्देशानुसार लोगों में पुलिस के प्रति विश्वास जगाने के उद्देश्य से जिले में समय-समय पर पुलिस उपस्थिति दिवस मनाया जाता है। उन्होंने बताया कि इसके तहत आज थाना क्षेत्रों व चौकियों में पुलिस की अलग-अलग 66 टीमें लगातार गश्त पर रहीं । उन्होंने बताया कि संदिग्ध लोगों की पहचान कर उनके खिलाफ कायज़्वाही अमल में लाई गई। अपराधों को रोकने के लिए जनता से भी सहयोग की अपील की गई । उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त पुलिस लाईन, एसपी ऑफिस, एस्कोर्ट गार्द आदि में तैनात पुलिस बल को भी नाकों व गश्त में तैनात किया गया। उन्होंने बताया कि स्कूलों ,कॉलेज तथा उन बाजारों में जहां महिलाओं का ज्यादा आना जाना रहता है ,वहां पर महिला पुलिस कर्मियों को भी गश्त पर तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि पुलिस की उपस्थिति से समाज का आमजन अपने आपको सुरक्षित महसुस करते है ।
सं.संजय
वार्ता
image