Wednesday, May 22 2024 | Time 19:07 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


मेलबर्न मे पहली बार हरियाणवी रागनी प्रतियोगिता आयोजित

जींद 30 अप्रैल (वार्ता) ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न मे पहली बार हरियाणवी रागनी प्रतियोगिता में मशहूर रागनी गायक रमेश कलावड़िया और विकास सातरोड़ ने अपनी रागनियों से समा बांध दिया।
विदेशी धरती पर भारी संख्या मे लोगों की भीड़ इस कार्यक्रम को देखने पहुंची कार्यक्रम का आयोजन हरियाणा निवासी राकेश दलाल, राजवीर सांगवान और सतीश छिल्लर ने किया।
हरियाणवी कार्यक्रम तो विदेशी धरती पर पहले भी होते रहे हैं लेकिन कभी हरियाणा की असली पहचान रागनी कॉम्पिटिशन किसी भी देश मे आयोजित नहीं हुआ। हरियाणा के इन तीन लोगों ने जो ऑस्ट्रेलिया मे काफी वर्षो से रह रहे हैं। इस रागनी कार्यक्रम का आयोजन किया कार्यक्रम को देखने के लिए लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा। हरियाणवी कलाकारों ने भी रागनियो से समा बांध दिया। जंहा विकास सातरोड़ ने पानी आली पानी प्या दे रागनी से लोगों का दिल जीत लिया, वही वरिष्ठ रागनी गायक रमेश ने बाबा जी भोली भाली शान का रागनी से लोगों को मंत्र मुगठ कर दिया। दोनों ही कलाकारों की प्रस्तुतियों पर लोगों ने डालरों की बरसात कर दी और लाईव देख रहे हरियाणा से लोगों ने ऑनलाइन रूपये लुटाए।
मशहूर हरियाणवी गायक केडी आजाद खांडा सहित अनेक कलाकारों ने ऑनलाइन प्रोग्राम देख रमेश और विकास को खूब पैसे भेजे। जींद निवासी राकेश दलाल ने बताया की पहले भी हरियाणवी कार्यक्रमों का आयोजन होता रहा है लेकिन उनकी इच्छा थी की रागनी का प्रोग्राम भी होना चाहिए और वो इसके लिए काफी समय से प्रयास कर रहे थे। इसी के चलते इस कार्यक्रम का आयोजन किया था और भारी संख्या मे लोगों ने इस प्रोग्राम का आनन्द लिया।
हरियाणा के मशहूर गायक रमेश कलावडिया ने इस अवसर पर कहा की पहले बार विदेशी धरती पर रागनी प्रोग्राम से वो बेहद खुश हैं और उम्मीद हैं की भविष्य मे भी इस तरह के कार्यक्रम होते रहेंगे उन्होंने कहा की रागनियो के इतने श्रोता मेलबर्न मे हैं उन्होंने भी नही सोचा था।
सं.विजय.संजय
वार्ता
More News
मोदी की छवि का गुब्बारा फट चुका है: राहुल

मोदी की छवि का गुब्बारा फट चुका है: राहुल

22 May 2024 | 6:32 PM

सोनीपत/ महेंद्रगढ़, 22 मई (वार्ता) कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने बुधवार को दावा किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की पिछले वर्षों में बनाई छवि का गुब्बारा फट चुका है।

see more..
image