Thursday, Jul 25 2024 | Time 00:46 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


एसजीपीसी पर मनगढंत आरोप लगाकर मान लोगों को बेवकूफ न बनाएं: ब्रह्मपुरा

तरनतारन 23 मई (वार्ता) पूर्व विधायक रविंदर सिंह ब्रह्मपुरा ने मंगलवार को शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक (एसजीपीसी) के खिलाफ मनगढ़ंत आरोपों को लेकर भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार की आलोचना की।
यहां जारी एक प्रेस बयान में ब्रह्मपुरा ने कहा कि मुख्यमंत्री मान लॉटरी-जैकपॉट प्रणाली के माध्यम से पंजाब के मुख्यमंत्री बन गए हैं। उन्होंने कहा कि वह अपने बेबुनियाद भाषणों से भद्दे मजाक करने से बाज नहीं आ रहे हैं। उन्होने कहा कि श्री मान को पता होना चाहिए कि वह पंजाब के मुख्यमंत्री हैं, कॉमेडियन नहीं और उन्हें पंजाब की जनता से किए अपने वादे पूरे करने चाहिए। क्योंकि लोग इस आम आदमी पार्टी (आप) को वोट देकर पछता रहे हैं और हर क्षेत्र में इसका बुरा परिणाम भुगत रहे हैं। आप हर दिन पंजाब के लोगों को चुटकुले सुनाती है।
पूर्व विधायक ने कहा कि धार्मिक मामलों में हस्तक्षेप मुख्यमंत्री के अधिकार क्षेत्र में नहीं आता। अभी तक किसी सीएम ने एसजीपीसी पर इस तरह के आरोप नहीं लगाए हैं। उन्होने कहा कि स्थानीय सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर है। लोग खुद को लाचार महसूस कर रहे हैं, यह आम जनता के साथ एक तरह का धोखा है।
मुख्यमंत्री राज्य और इसके लोगों के कल्याण और विकास पर ध्यान दें तो बेहतर है। एसजीपीसी हालांकि सिखों का एक विशुद्ध रूप से पवित्र संगठन है जहाँ जाति, रंग या धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं किया जाता है। दुनिया भर में कोई भी भक्त, जब वह श्री हरमंदिर साहिब में झुकता है, एसजीपीसी और उसके प्रबंधन की पवित्र भावनाओं को महसूस करता है।
श्री ब्रह्मपुरा ने मुख्यमंत्री मान को सिखों के सर्वोच्च पवित्र संस्थान के प्रति मनगढंत दावे करने की आड़ में पंजाबियों को गुमराह न करने की चेतावनी दी। उन्होंने बताया कि पंजाब की आप राज्य सरकार मशीनरी के दुरुपयोग के कारण जालंधर लोकसभा उपचुनाव जीता है। उन्होंने कहा कि वह आने वाले दिनों में वर्तमान राज्य सरकार के झूठे, काल्पनिक और निराधार दावों की सच्चाई लोगों के सामने उजागर करेंगे।
ठाकुर, उप्रेती
वार्ता
image