Tuesday, Jul 23 2024 | Time 17:50 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


एसजेवीएन ने 2022-23 के दौरान 3299 करोड़ की सर्वाधिक आय दर्ज कीः शर्मा

शिमला 23 मई (वार्ता) सतलुज जल विद्युत परियोजना के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक ने बताया कि एसजेवीएन ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के दौरान अब तक का सर्वाधिक 3299 करोड़ रुपए का राजस्व दर्ज किया है।
उन्होंने कहा कि गत उच्चतम राजस्व वित्तीय वर्ष 2014-15 में दर्ज किया गया था जब यह 3256 करोड़ रुपए था। उन्होंने कहा कि राजस्व में गत वर्ष के 2626 करोड़ रुपए की तुलना में 25.67 फीसदी की वृद्धि दर्ज हुई है। बोर्ड ने 1.77 रुपए प्रति शेयर (10 रुपए प्रति शेयर की फेस वैल्यू पर) के लाभांश की भी अनुशंसा की है।
नन्द लाल शर्मा ने आगे बताया कि एसजेवीएन ने वित्तीय वर्ष 2022-23 में कर पश्चात लाभ (पीएटी) 1363.45 करोड़ रुपए दर्ज किया है जो गत वित्तीय वर्ष की तुलना में 39.48 फीसदी अधिक है, जब पीएटी 977.52 करोड़ रुपए था। जबकि एसजेवीएन का नेटवर्थ 13128 करोड़ रुपए से बढ़कर 13822 करोड़ रुपए हो गया, जिसमें लगभग 694 करोड़ रुपए की वृद्धि है।
श्री शर्मा ने कहा कि कर पूर्व लाभ में वित्तीय वर्ष 2021-22 के दौरान 1343.44 करोड़ रुपए की तुलना में 28.93ः की वृद्धि हुई है जो 1732.13 करोड़ रुपए है। इस अवधि के दौरान प्रति शेयर आय (ईपीएस) भी 34.61ः की वृद्धि के साथ 2.60 रुपए से बढ़कर 3.50 रुपए हो गई है।
श्री शर्मा ने आगे बताया कि एसजेवीएन ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए अपने महत्वाकांक्षी पूंजीगत व्यय (कैपेक्स) लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल कर लिया है। 8240 करोड़ रुपए के साथ, कंपनी ने भारत सरकार के विद्युत मंत्रालय द्वारा निर्धारित 8,000 करोड़ रुपए के लक्ष्य को पार किया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूरदर्शी नेतृत्व तथा केंद्रीय विद्युत मंत्री आर के सिंह के मार्गदर्शन में, एसजेवीएन ने राष्ट्र के आर्थिक और ढांचागत विकास में योगदान करने के लिए यह लक्ष्य हासिल किया है।
श्री शर्मा ने कहा कि वित्तीय वर्ष 2022-23 के लिए विद्युत सीपीएसई में 8,000 करोड़ रुपए का कैपेक्स लक्ष्य तीसरा सबसे बड़ा लक्ष्य था। इस उपलब्धि से और दृढ़ हुए विश्वास और उच्च मनोबल के साथ एसजेवीएन अब वित्तीय वर्ष 2023-24 के लिए 10,000 करोड़ रुपए के विशाल पूंजीगत व्यय लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए तैयार है। वर्तमान में एसजेवीएन अखिल भारत एवं पड़ोसी देश नेपाल में 14 विद्युत परियोजनाओं और दो ट्रांसमिशन लाइनों का निर्माण कर रहा है।
एसजेवीएन ने विद्युत उत्पादन में अपना अनुकरणीय निष्पादन जारी रखा है और गत वर्ष के 9207 मिलियन यूनिट के उत्पादन को पार करते हुए वित्तीय वर्ष 2022-23 में अपने सभी पावर स्टेशनों से 9283 मिलियन यूनिट का उत्पादन हासिल किया है।
श्री शर्मा ने सभी कर्मचारियों के एकजुट प्रयासों और समर्पण की सराहना की। सकारात्मक विकास प्रतिशतता हमारी प्रचालन इकाइयों के इष्टतम उपयोग, बेहतर विद्युत उत्पादन रिकॉर्ड के लिए लगातार प्रयास, सर्वोत्तम वित्तीय प्रथाओं को अपनाने और कंपनी के पोर्टफोलियो में क्षमता वृद्धि पर रणनीतिक ध्यान देने का परिणाम हैं।
एसजेवीएन तीव्रता से विस्तार और क्षमता वृद्धि के दौर में है और अब कंपनी का परियोजना पोर्टफोलियो 77 परियोजनाओं के साथ 47279 मेगावाट का है। कंपनी वर्ष 2023-24 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 25000 मेगावाट और वर्ष 2040 तक 50000 मेगावाट की स्थापित क्षमता के अपने साझा विजन को हासिल करने के लिए जोश के साथ अग्रसर है।
सं.संजय
वार्ता
image