Sunday, Apr 14 2024 | Time 10:26 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


मोदी ने हिमाचल के लोगों के साथ की वादा खिलाफी: राठौर

शिमला, 06 फरवरी (वार्ता) कांग्रेस के प्रवक्ता व विधायक कुलदीप राठौर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हिमाचल के लोगों के साथ वादाखिलाफी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि ईरान का सेब अफगानिस्तान के रास्ते से अवैध रूप से आयात हो रहा है। इससे हिमाचल के बागवानों को सबसे ज्यादा नुकसान हो रहा है।
श्री राठौर ने मंगलवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में केंद्र सरकार से मांग की है कि इस मामले पर तुरंत प्रभाव से रोक लगाई जाए। उन्होंने सांसदों से भी इस मामले को केंद्र के समक्ष प्रमुख्ता से उठाने की मांग की है।
श्री राठौर ने कहा कि हिमाचल के 20 से 22 विधानसभा क्षेत्रों में सेब पैदा होता है। नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर से भी उन्होंने मांग की है कि वह भी केंद्र सरकार के समक्ष इस मामले को उठाए ताकि प्रदेश के बागवानों के साथ न्याय हो सकें। उन्होंने कहा कि इस मामले को वह विधानसभा में भी उठाएंगे। पहले भी इस मामले को सदन में उठा चुके हैं। श्री राठौर ने कहा कि प्रदेश के बागवानों ने कोल्ड स्टोर व सीए स्टोर में सेब रखा हुआ है। इसका मकसद यही रहता है कि ऑफ सीजन में उन्हें अपनी फसल के अच्छे दाम मिल सके। इसके लिए वह हर महीने सीए स्टोर का किराया देते हैं। इन दिनों बागवान अपने सेब को सीए स्टोर से निकालते हैं, लेकिन इन दिनों दाम ही नहीं मिल रहे हैं।
श्री राठौर ने कहा कि यूएसए, तूर्की, इटली, न्यूजीलैंड व पोलैंड जैसे देशों में सेब की पैदावार होती है। लेकिन सेब आ अफगानिस्तान के रास्ते से रहा है। जबकि अफगानिस्तान में ड्राई फ्रूट का उत्पादन होता है। उन्होंने कहा कि ईरान का सेब अफगानिस्तान के रास्ते से लाया जा रहा है। अफगानिस्तान के साथ हमारे देश की संधी है जिसके चलते वहां आयात शुल्क नहीं लगता। इस कालाबाजारी से हिमाचल में सेब के दाम गिर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार अवैध रूप से सेब का आयात रोकने में पूरी तरह असफल साबित हुई है। राठौर ने कहा कि पिछले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री व गृहमंत्री ने हिमाचल के बागवानों से वायदा किया था कि सेब पर आयात शुल्क को 50 से बढ़ाकर 100 प्रतिशत किया जाएगा। लेकिन पांच सालों में इसे बढ़ाना तो दूर उल्टा 50 से 30 प्रतिशत पर ला दिया। इससे हिमाचल का सेब उद्योग संकट में है। उन्होंने आरोप लगाया कि बड़े बड़े सेब के व्यापारियों के दबाव में केंद्र ने यह कदम उठाया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के बागवानों ने उनके साथ मुलाकात कर अपनी चिंता जताई है।
श्री राठौर ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार ने वायदा किया था कि किसान व बागवानों की आय को दोगुना किया जाएगा, लेकिन दोगुना करने के बजाए उन्हें आर्थिक संकट में डाल दिया है। उन्होंने कहा कि डीजल व पैट्रोल के दाम स्थिर है। जबकि कच्चे तेल के दाम लगातार गिर रहे है। जून 2022 में 120 रुपए प्रति बैरल कच्चा तेल था फरवरी 2024 में 77 रुपए प्रति बैरल है। कंपनियां लगातार मुनाफा कमा रही है और आम लोगों को कोई राहत नहीं मिल रही है।
सं.संजय
वार्ता
More News
आपदा के पैसे को लूटने का काम कांग्रेस ने किया: कंगना

आपदा के पैसे को लूटने का काम कांग्रेस ने किया: कंगना

13 Apr 2024 | 11:39 PM

मंडी, 13 अप्रैल (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी की मंडी लोकसभा से प्रत्याशी व फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत ने शनिवार को एक रैली को संबोधित करते हुए कहा हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस लूटपाट के बजाय कुछ नहीं कर रही है।

see more..
कंगना व विक्रमादित्य के बीच जुबानी जंग तेज

कंगना व विक्रमादित्य के बीच जुबानी जंग तेज

13 Apr 2024 | 8:52 PM

शिमला, 13 अप्रैल (वार्ता) देश भर में 19 अप्रैल से लोकसभा की कुल 543 सीटों के लिए पहले चरण का चुनाव होने जा रहा है। चुनाव प्रचार में मुद्दों की राजनीति से ज्यादा व्यक्तिगत कटाक्ष से सियासत का चुनावी माहौल गर्म हो चुका है।

see more..
न्याय पत्र में कांग्रेस पार्टी ने ओपीएस पर चुप्पी साधीः सहजल

न्याय पत्र में कांग्रेस पार्टी ने ओपीएस पर चुप्पी साधीः सहजल

13 Apr 2024 | 8:40 PM

शिमला, 13 अप्रैल (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं पूर्व मंत्री राजीव सहजल ने मुख्य संसदीय सचिव आशीष बुटेल का जवाब देते हुए कहा कि देशभर में कांग्रेस पार्टी की मंशा ओल्ड पेंशन स्कीम (ओपीएस) के हक में नहीं है।

see more..
image