Monday, May 27 2024 | Time 12:02 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


सुक्खू कर रहे अनर्गल बयानबाजी : ठाकुर

मण्डी, 06 अप्रैल (वार्ता) हिमाचल प्रदेश के नेता प्रतिपक्ष जयराम ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू को कांग्रेस पार्टी छोड़कर भारतीय जनता पार्टी में शामिल होने वाले कांग्रेस के पूर्व विधायकों के खि़लाफ़ कर करे अनर्गल बयानबाज़ी बंद करनी चाहिए।
श्री ठाकुर ने कहा कि यदि श्री सुक्खू के पास अगर सबूत हैं तो उसे पेश करें अन्यथा अपने पद की गरिमा का ध्यान रखे, जिनके खि़लाफ़ उन्होंने इस तरह के अनर्गल आरोप लगाए हैं। उन्होंने श्री सुक्खू के ख़िलाफ़ मानहानि के नोटिस भी भेजे हैं और अन्य क़ानूनी कार्रवाई पर राय ले रहे हैं जिससे आगे उनकी मुश्किलें बढ़ने वाली हैं।
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री होकर ऊना के कुटलैहड़ में भाजपा प्रत्याशी के लिए श्री सुक्खू ने जिस प्रकार के शब्दों का इस्तेमाल किया वह अत्यन्त दुर्भाग्यपूर्ण हैं। एक पूर्व विधायक एवं भाजपा प्रत्याशी के लिए उनके शब्द अराजकता फैलाने वाले हैं। इस तरह की बात देवभूमि के मुख्यमंत्री द्वारा कही जाना दुःखद है।
श्री ठाकुर ने कहा कि सरकार चाहती है कि विपक्ष उनकी हर कारगुज़ारी पर ख़ामोश बैठी रहे। यह नहीं हो सकता है, जब भी सरकार का जनहित से दूर होकर लोकतंत्र के नियमों के ख़िलाफ़ काम करेगी सरकार को रोकना, टोकना विपक्ष का धर्म है और हम वही धर्म निभा रहे हैं। जयराम ठाकुर ने कहा कि जनता से झूठ बोला था इसलिए देवभूमि की जनता ने उन्हें बहुमत सौंपा था लेकिन मुख्यमंत्री जनमत नहीं सम्भाल पाए और चुने हुए जनप्रतिनिधियों की आलोचना और अपमान किया। उन सभी ने मुख्यमंत्री को समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन मुख्यमंत्री समझ नहीं पाए और अभी भी वह हालत समझना नहीं चाह रहे हैं।
उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रत्याशी रहे अभिषेक सिंघवी द्वारा हाई कोर्ट में जो भी बात कही ही, तकनीकी पहलुओं पर कोई भी सवाल उठाया गया हो लेकिन सत्य यही है कि भाजपा के प्रत्याशी हर्ष महाजन के पक्ष में कांग्रेस के विधायकों ने मतदान किया और भाजपा के पास 25 विधायक होने के बाद भी भाजपा को 34 वोट मिले, कांग्रेस के प्रत्याशी के रूप में श्री अभिषेक मनु सिंहवी को भी बराबर वोट मिले। जिसके बाद नियमानुसार लॉटरी द्वारा हर्ष महाजन जीत गये। निर्वाचन अधिकारी द्वारा उन्हें जीत का सर्टिफिकेट दे दिया गया है और राज्य सभा के सदस्य के रूप में हर्ष महाजन की शपथ भी हो गई है। वहीं श्री अभिषेक मनु सिंघवी को अपनी बात रखने का अधिकार है।
सं.संजय
वार्ता
image