Sunday, Jun 23 2024 | Time 07:02 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


परिवार के साथ ट्रैवल पर पहले से ज्यादा खर्चा कर रहे हैं भारतीय

शिमला, 01 मई (वार्ता) वर्ष 2019 में आए कोरोना वेव की लहर थमने के बाद भारतीयों का यात्रा करने का रिवाज बदल गया है। आज स्थिति यह है कि भारत के लोग आध्यात्मिक और धार्मिक यात्राओं को फैमिली ट्रवेल्स की तरह करने लगे हैं। यही वजह है कि पिछले पांच सालों में यात्राओं का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। अयोध्या, वाराणसी, उज्जैन, केदारनाथ जैसे धार्मिक स्थलों पर यात्राओं का ग्राफ निरंतर बढ़ रहा है।
मेक माईट्रिप के सह-संस्थापक और ग्रुप सीईओ, राजेश मगो ने बताया कि,घरेलु और अंतरराष्ट्रीय क्षितिज पर भावी पर्यटन की रुपरेखा तैयार करने में मदद करने के लिए, पहले हमें भारतीय यात्रियों के बदलते यात्रा व्यवहार को समझना होगा। मेक माईट्रिप की इंडिया ट्रैवल ट्रेंड्स रिपोर्ट कुछ नवीनतम और महत्वपूर्ण ट्रेंड़स को रेखांकित करती है। भारत दिनों-दिन पर्यटन के क्षेत्र में एक मजबूत ताकत के रूप में उभर रहा है। सप्ताहांत में घूमने वाले गंतव्यों में जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क के बारे में 2022 की तुलना में 2023 में 131 प्रतिशत अधिक जानकारी बटोरी गई। ऊटी और मुन्नार जैसे हिल स्टेशन भी लोकप्रिय विकल्प हैं, खासकर देश के दक्षिणी हिस्से में। दुबई, बैंकॉक और सिंगापुर अंतरराष्ट्रीय यात्रा खोजों में टॉप पर हैं। लंदन, टोरंटो और न्यूयॉर्क सबसे अधिक लंबी दूरी के यात्राओं के लिए खोजे गए। 2023 में उभरते अंतरराष्ट्रीय यात्राओं की सर्चिंग में कई गुना वृद्धि हुई, जिनमें हांगकांग, अल्माटी, पारो, बाकू, दा नांग और त्बिलिसी शामिल हैं। फैमिली ट्रवेलिंग बुकिंग बढ़ रही है, जहां 2022 की तुलना में 2023 में बुकिंग में 64 प्रतिशत की वृद्धि हुई। इसके बाद उसी तुलनात्मक अवधि के लिए एकल यात्री बुकिंग में 23 प्रतिशत की वृद्धि हुई।
मेक माई ट्रिप इंडिया ट्रैवल ट्रेंड्स रिपोर्ट में उसके मंच के जरिए 10 करोड़ से अधिक ग्राहकों से प्राप्त जानकारी और उनकी अन्य जिज्ञासाओं पर गौर करने के बाद यह बात सामने आई है। इससे पता चला कि 2019 के बाद से एक वर्ष में तीन से अधिक यात्राएं करने वाले लोगों की संख्या में 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। रिपोर्ट के अनुसार आध्यात्मिक यात्राओं में बढ़ती रुचि इसकी मुख्य वजह पाई गई है।
मेक माई ट्रिप इंडिया ट्रैवल ट्रेंड्स रिपोर्ट के मुताबिक अब भारत के लोग टियर-2 और टियर-3 शहर की आध्यात्मिक यात्राओं को अपना रहे हैं। पिछले 2 वर्षों में धार्मिक स्थलों और उनके आसपास की यात्राओं में 97 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। मेक माई ट्रिप के अनुसार 2019 की तुलना में 2023 में प्रति वर्ष 3 से अधिक यात्राएं करने वाले लोगों की संख्या में 25 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। इस समयावधि में आध्यात्मिक पर्यटन में भी वृद्धि देखी गई है। अयोध्या में 2022 की तुलना में 2023 में 585 प्रतिशत की भारी वृद्धि हुई है। इसी तरह उज्जैन और बद्रीनाथ को लेकर की गई खोज में क्रमशः 359 प्रतिशत और 343 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।
सं.संजय
वार्ता
More News
शारीरिक कसरत से कहीं ज्यादा एक गहन दर्शन है योगः शुक्ल

शारीरिक कसरत से कहीं ज्यादा एक गहन दर्शन है योगः शुक्ल

22 Jun 2024 | 8:47 PM

शिमला, 22 जून (वार्ता) हिमाचल के राज्यपाल शिव प्रताप शुक्ल ने शनिवार को ऐतिहासिक गेयटी थियेटर शिमला में विश्व योग दिवस के अवसर पर आयोजित संगोष्ठी में कहा कि योग को गहराई से जानना बेहद जरूरी है। हमारी दिनचर्या के अभिन्न अंग बनने पर ही योग का पूर्ण लाभ लिया जा सकता है।

see more..
बिलासपुर गोलीकांड की जांच सी.बी.आई के हवाले करें सुक्खू: भाजपा

बिलासपुर गोलीकांड की जांच सी.बी.आई के हवाले करें सुक्खू: भाजपा

22 Jun 2024 | 8:46 PM

सोलन, 22 जून (वार्ता) भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता विवेक शर्मा ने बिलासपुर गोली कांड पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि हिमाचल प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था अब गैंग वॉर में परिवर्तित हो रही है जो केवल प्रदेश के लिए ही नहीं युवा पीढ़ी के लिए भी घातक साबित होगी। जिसकी नैतिक जिम्मेवारी वर्तमान मित्रों की सरकार के व्यवस्था परिवर्तन को लेनी होगी।

see more..
रोहित ने किया 66 केवी सब स्टेशन का लोकार्पण

रोहित ने किया 66 केवी सब स्टेशन का लोकार्पण

22 Jun 2024 | 8:41 PM

शिमला, 22 जून (वार्ता) हिमाचल प्रदेश के शिक्षा मंत्री रोहित ठाकुर ने शनिवार को जुब्बल कोटखाई विधानसभा क्षेत्र के हाटकोटी स्थित नवनिर्मित 66 केवी सब स्टेशन का लोकार्पण किया। जिसका निर्माण कार्य लगभग 48 करोड़ रुपए से पूर्ण किया गया है।

see more..
image