Tuesday, Jun 18 2024 | Time 05:56 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


मोदी की सुरक्षा में एक हजार जवानों की तैनाती

नाहन, 23 मई (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हिमाचल प्रदेश में चुनावी रैली के मद्देनजर सुरक्षा को लेकर चाक चौबंद व्यवस्था कर ली गई है। एसपीजी ने पंडाल को कब्जे में ले लिया है। यहां अब परिंदा भी पर नहीं मार सकता। सूबे के हरेक हिस्से से पुलिस की तैनाती की गई है। करीब एक हजार जवान तैनात हुए हैं। आर्मी ग्राऊंड से चौगान मैदान तक सुरक्षा कर्मियों की चप्पे-चप्पे पर नजर होगी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार ऊंचे भवनों पर स्नाइपर तैनात होंगे। प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर राज्य के करीब 40 आईपीएस और एचपीएस अधिकारी भी नाहन में डेरा डाले हुए हैं। जुड्डा का जोहड़ हैलीपैड को भी स्टैंड बाय रखा गया है। शहरवासियों को ये भी सुझाव है कि शुक्रवार की सुबह सात बजे से दोपहर तक वाहनों का इस्तेमाल करने से बचें, क्योंकि इससे उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।
सिरमौर पुलिस ने प्रधानमंत्री की रैली के मद्देनजर गुरुवार को शाम ट्रैफिक प्लान को जारी कर दिया है। इसके मुताबिक शिमला की तरफ से आने वाले वाहनों को दो सड़का पर सुबह 9 बजे के बाद रोक दिया जाएगा। केवल रैली स्थल पर आने वाले वाहनों को ही आगे बढ़ने की अनुमति होगी। शिमला की तरफ से देहरादून जाने वाले वाहन जमटा होकर धौलाकुआं वाले मार्ग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
रैली में हिस्सा लेने आने वाले वाहनों को भी आईटीआई से थोड़ा आगे बीडीओ कार्यालय पर ही रोका जाएगा। वाहनों की पार्किंग आईटीआई के मैदान के अलावा सड़क के एक ओर करने की अनुमति होगी। यहां से सभास्थल तक करीब एक किलोमीटर की दूरी को पैदल या फिर वैकल्पिक व्यवस्था से तय किया जा सकता है।
उधर, पांवटा साहिब की तरफ से आने वाले वाहनों को खजूरना पुल पर ही रोक दिया जाएगा। कालाअंब की तरफ जाने वाले छोटे वाहनों को सकेती की तरफ से रूट किया जाएगा। इसके अलावा भारी वाहनों को आगे जाने की अनुमति नहीं होगी। रैली में हिस्सा लेने आ रहे लोगों के वाहनों को कांशीवाला में आगे आने की अनुमति नहीं होगी। यहीं से लोगों को वैकल्पिक व्यवस्था का इस्तेमाल करना होगा। अधिकतर लोग वाहनों को पार्क करने के बाद पैदल ही सभास्थल तक पहुंचेंगे। कांशीवाला और आईटीआई के समीप बीडीओ कार्यालय से करीब तीन से चार घंटे तक वाहनों की मूमेंट नहीं होगी।
उधर, शिमला से कालाअंब की तरफ जाने वाले वाहनों को ल्वासा चौकी से डायवर्ट होने की सलाह दी गई है। ट्रैफिक प्लान के मुताबिक कालाअंब की तरफ से आने वाले वाहन वन-वे का इस्तेमाल करेंगे। देहरादून की तरफ जाने पर पाबंदी नहीं होगी, लेकिन भारी वाहनों की मूमेंट को इजाजत नहीं है। शहर के रिंग रोड़ पर सुबह सात बजे के आसपास ही ट्रैफिक को रोका जा सकता है।
सं. उप्रेती
वार्ता
image