Thursday, Jul 18 2024 | Time 15:58 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


प्रदेश में गहराया बिजली-पेयजल संकट, सरकार सोई है

चंडीगढ़/सिरसा, 09 जून (वार्ता) हरियाणा के सिरसा से कांग्रेस (इंडिया समूह) की नवनिर्वाचित सांसद कुमारी सैलजा ने कहा है कि प्रदेश में एक तरफ गर्मी है वहीं पेयजल संकट जख्मों पर नमक छिड़कने का काम कर रहा है और प्रदेश सरकार सोई हुई है।
सुश्री सैलजा ने रविवार को मीडिया को जारी बयान में कहा कि प्रदेश भर में बिजली, पानी को लेकर धरना प्रदर्शन और रास्ते जाम हो रहे है पर सरकार हाथ पर हाथ रखकर बैठी हुई है। जो सरकार जनता को मूलभूत सुविधाएं तक उपलब्ध न करवा सके उसे एक पल भी सत्ता में रहने का हक नहीं है, झूठे वायदे और जनता का भला होने वाला नहीं है।
उन्होंने कहा कि एक ओर प्रदेश सरकार दावा कर रही है कि उसके पास पर्याप्त बिजली है तो दूसरी ओर प्रदेश भर में बिजली संकट गहराया हुआ है, रातभर अघोषित कट लग रहे है, गर्मी से बुजुर्ग और बच्चे सबसे ज्यादा परेशान है। लोगों को पीने का पानी नसीब नहीं हो रहा, जलघरों की डिग्गियां सूख रही है। भीषण गर्मी में लोग जान बचाने के लिए 600 से 800 रुपये प्रति टैंकर पानी का खरीदकर गुजारा कर रहे है। जिस प्रदेश के लोग खरीदकर पानी पीने को मजबूर हो जाए ऐसी सरकार को एक पल भी सत्ता में रहने का हक नहीं हैं।
सुश्री सैलजा ने कहा कि रोहतक के सुनारियां गांव में पानी और बिजली दूर की कौड़ी बन गई हैं। पिछले दस दिनों से गांव के नल सूखे पड़े हैं और बिजली के अवरोध ने जीवन को और भी कठिन बना दिया है। प्रदेश में तापमान 45 से 50 डिग्री के बीच रहा ऐसे में लोगों को बिजली-पानी संकट का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि सरकार को बयानबाजी छोड़कर जनता की मूलभूत जरूरतों खासकर बिजली व पानी का प्रबंध करने की ओर ध्यान देना चाहिए।
विजय.संजय
वार्ता
image