Wednesday, Jul 17 2024 | Time 21:51 Hrs(IST)
image
राज्य » पंजाब / हरियाणा / हिमाचल


बिलासपुर कोर्ट फायरिंग मामला: उच्च न्यायालय ने आरोपियों की जमानत याचिका पर सुनवाई टली

शिमला, 22 जून (वार्ता) हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय ने हाल ही में अदालत परिसर में हुई गोलीबारी की घटना के मामले में पूर्व विधायक बंबर ठाकुर के बेटे आरोपी पुरंजन ठाकुर की जमानत याचिका पर सुनवाई टाल दी है।
प्रार्थी के वकील एन एस चंदेल ने शुक्रवार को जमानत याचिका दायर की और इसे शनिवार को न्यायमूर्ति संदीप शर्मा की एकल न्यायाधीश पीठ के समक्ष सूचीबद्ध किया गया।
राजन कहोल के नेतृत्व में अभियोजन पक्ष ने जमानत का विरोध करते हुए तर्क दिया कि पुरंजन इस साजिश के पीछे का मास्टरमाइंड था, जिसने 15 जून को सनी गिल से मुलाकात की थी और भूमिगत होने से पहले उसे आश्रय प्रदान किया था।बचाव पक्ष ने हालाँकि पुरंजन को परिस्थितियों का शिकार बताया, लेकिन न्यायाधीश इस पर सहमत नहीं हुए।
न्यायमूर्ति शर्मा ने स्टेटस रिपोर्ट की समीक्षा की।उन्होंने कहा, “जांच अपने प्रारंभिक चरण में है। हमें इस्तेमाल किए गए हथियार की उत्पत्ति का पता लगाना चाहिए।”
अदालत ने पुलिस को अगली सुनवाई के दौरान जांच रिकॉर्ड पेश करने का निर्देश दिया है और फैसला 25 जून तक के लिए टाल दिया है।
गोलीबारी की घटना 20 जून को बिलासपुर जिला अदालत परिसर में हुई थी जहां सौरभ पटियाल गोली लगने से घायल हो गया था।
कांग्रेस के पूर्व विधायक पर हमले का मुख्य आरोपी पटियाल पेशी के लिए अदालत जा रहा था, तभी अज्ञात हमलावरों ने गोलियां चला दीं।अफरा-तफरी के बीच पटियाल अदालत की शरण लेने में कामयाब रहा, जबकि गोलीबारी से आसपास के कई वाहनों के शीशे टूट गए।
मुख्य आरोपी के बयान के आधार पर पुलिस ने पुरंजन पर धारा 307 और आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।
पंजाब के एक युवक सनी गिल और स्थानीय निवासी गौरव नड्डा को बिलासपुर पुलिस ने गोलीबारी में शामिल होने के आरोप में गिरफ्तार किया था।
घटना में साजिश के गिल के आरोप के बाद पुलिस फिलहाल पुरंजन का पता लगाने की कोशिश कर रही है।
उल्लेखनीय है कि हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में पूर्व विधायक पर हमले का मुख्य आरोपी सौरभ पटियाल उर्फ फांदी पेशी के लिए कोर्ट परिसर पहुंचा था। इस दौरान दो युवकों ने उस पर फायरिंग कर दी। इस फायरिंग में एक गोली सौरभ को लग गई और दूसरी गोली मिस होकर वहां खड़ी एक गाड़ी के शीशे पर जा लगी. जिसके बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। आरोपी बचने के लिए कोर्ट परिसर की ओर भागा लेकिन पुलिस ने आरोपी को दबोच लिया। फायरिंग करने वाला आरोपी लुधियाना का शूटर बताया जा रहा है।
सैनी,आशा
वार्ता
image